News That Matters

Tag: रो

शेन वॉटसन का घुटना खून से लथपथ था, जुटे थे चेन्नई को चैंपियन बनाने, हालत देख फैंस भी रो पड़े

Indian Sports
हैदराबाद। मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच रविवार को खेले गए आईपीएल-12 के फाइनल में जो नजारा दर्शकों ने देखा, उसे देखकर वे रो पड़े। भले ही मुंबई ने 1 रन से चौथी बार आईपीएल का खिताब जीता हो लेकिन जीत के मुहाने पर पहुंचाकर 80 रन पर रन आउट हो ... खेल-संसार
Hina Khan Farewell- कसौटी जिंदगी’ के शूटिंग के अंतिम दिन रो पड़ीं ‘कोमोलिका’, देखे वीडियो

Hina Khan Farewell- कसौटी जिंदगी’ के शूटिंग के अंतिम दिन रो पड़ीं ‘कोमोलिका’, देखे वीडियो

Entertainment
'कसौटी जिंदगी की-2 के सेट से एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो में कोमोलिका यानी हिना खान, प्रेरणा यानी  एरिका फर्नांडिस और अनुराग यानि  पार्थ समथान नजर आ रहे हैं। ये तीनों काफी... Live Hindustan Rss feed

World Cup 2019 के लिए टीम में नहीं हुआ सलेक्शन तो मीडिया के सामने रो दिया ये क्रिकेटर

Indian Sports
बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने वर्ल्ड कप के लिए 15 सदस्यीय टीम का एलान कर दिया है। इस टीम में तास्किन अहमद का नाम शामिल नहीं है। Jagran Hindi News - cricket:headlines
बालाकोट बदले के बाद रोना किसी को था और रो कोई और रहा था: पीएम मोदी

बालाकोट बदले के बाद रोना किसी को था और रो कोई और रहा था: पीएम मोदी

India
पश्चिम बंगाल के सिलिगुड़ी में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी पर कई जवाबी हमले किए। उन्होंने ममता बनर्जी की बालाकोट में हुई एयर स्ट्राइक पर सबूत मांगने... Live Hindustan Rss feed
कल तक यह बच्चा खेलता था, आज इस मासूम को जिसने देखा वो रो पड़ा,  माता-पिता गए थे मजदूरी करने, घर लौटे तो इस हाल में मिला बेटा

कल तक यह बच्चा खेलता था, आज इस मासूम को जिसने देखा वो रो पड़ा,  माता-पिता गए थे मजदूरी करने, घर लौटे तो इस हाल में मिला बेटा

Rajasthan
हनुमानगढ़ (राजस्थान)।गुरुवार दोपहर डेढ़ वर्षीय एक मासूम बच्चे की खेलते समय खुले नाले में गिरने से मौत हो गई। हैरानी की बात है कि नगरपरिषद की ओर से नाले पर चेंबर तो लगाए गए, लेकिन नाले की सफाई के बाद उनको ढकने की बजाए खुला ही छोड़ दिया गया। इसी लापरवाही के कारण खुले नाले में गिरने से मासूम की मौत हो गई। जिस समय यह घटना हुई, उस समय बच्चे के माता-पिता भी घर नहीं थे। डेढ़ घंटे बाद मां घर पहुंची और बच्चे को संभाला तो वह नाले में मृत मिला। घटना के बाद आसपास के लोगों ने परिषद प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए रोष जताया।जिला अस्पताल में किसी तरह की कानूनी कार्रवाई से इंकार करने पर पुलिस ने बच्चे का शव बिना पोस्टमार्टम परिजनों को सौंप दिया। जानकारी के अनुसार राजू यादव निवासी गांव सरसा जिला समस्तीपुर बिहार हाल टिब्बी रोड वार्ड 28 दिहाड़ी मजदूरी करता है। गुरुवार सुबह वह दिहाड़ी मजदू
शहीद पति का चेहरा देखते ही बेसुध हुई पत्नी, 10 माह के बेटे ने दी मुखाग्नि तो रो पड़ा पूरा शहर, बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कुछ करती क्यों नहीं

शहीद पति का चेहरा देखते ही बेसुध हुई पत्नी, 10 माह के बेटे ने दी मुखाग्नि तो रो पड़ा पूरा शहर, बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कुछ करती क्यों नहीं

Haryana
रेवाड़ी (हरियाणा)।श्रीनगर के पुलवामा (पिंगलेना) में सोमवार को शहीद हुए हरि सिंह चौहान का पार्थिव शरीर मंगलवार सुबह पैतृक गांव राजगढ़ पहुंचा। उनकी शहादत को नमन करने के लिए हजारों लोगों का हुजूम जिंदाबाद के नारे लगाते हुए उनके घर तक पहुंचा गया।शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह, राज्य के शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा, पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह, जनस्वास्थ्य मंत्री डॉ. बनवारी लाल समेत शासन-प्रशासन का पूरा अमला उमड़ा।बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कश्मीर से धारा 370 हटाकर देशद्रोहियों को खत्म क्यों नहीं करतीशहीद हरि सिंह की बड़ी बहन पूनम ने विलाप करते हुए कश्मीर के हालात को कोसा। कहा कि कब तक हमारी जैसी बहनें अपना भाई खोती रहेंगी। कब तक 22-23 साल की पत्नी का सुहाग शहीद होगा। सरकार एक बार में ही धारा 370 हटाकर वहां देशद्
शहीद पति का चेहरा देखते ही बेसुध हुई पत्नी, 10 माह के बेटे ने दी मुखाग्नि तो रो पड़ा पूरा शहर, बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कुछ करती क्यों नहीं

शहीद पति का चेहरा देखते ही बेसुध हुई पत्नी, 10 माह के बेटे ने दी मुखाग्नि तो रो पड़ा पूरा शहर, बहन बोलीं- कब तक बहनें भाई खोती रहेंगी, सरकार कुछ करती क्यों नहीं

Haryana
रेवाड़ी (हरियाण). श्रीनगर के पुलवामा (पिगलीना) में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए हरि सिंह चौहान का पार्थिव शरीर मंगलवार को पैतृक गांव राजगढ़ पहुंचा। देश के लिए शहादत देने वाले जवानों की अंतिम यात्रा में जन सैलाब उमड़ा। हजारों लोगों ने यात्रा में शामिल होकर बहादुर बेटे को सलामी दी और नम आंखों से जवान की शहादत को नमन किया। गांव में राजकीय सम्मान के साथ शहीद की अंत्येष्टि की गई। 10 माह के बेटे लक्ष्य ने शहीद हरि सिंह को मुखाग्नि दी।सोमवार अलसुबह शहादत के बाद शाम 5 बजे तक पार्थिव शरीर गांव पहुंचने की सूचना थी, मगर देरी के चलते बेस अस्पताल दिल्ली में रखा गया। यहां मंगलवार सुबह करीब 6 बजे सेना के जवान पार्थिव शरीर लेकर रवाना हुए। दिल्ली-जयपुर हाईवे होते हुए शव को गांव लाया गया। पूरे रास्ते शहीद पर फूल बरसाए गए। लगातार शहीद अमर रहे और भारत माता के जयकारे लगते रहे। पाकिस्तान
रो पड़ा पूरा गांव जब सवा 2 माह के बेटे ने दी शहीद पिता को मुखाग्नि; अंत्येष्टि में उमड़ा जन सैलाब, 6 घंटे में 20km का अंतिम सफर…

रो पड़ा पूरा गांव जब सवा 2 माह के बेटे ने दी शहीद पिता को मुखाग्नि; अंत्येष्टि में उमड़ा जन सैलाब, 6 घंटे में 20km का अंतिम सफर…

Rajasthan
जयपुर।शहीदों की चिता पर हर बरस लगेंगे मेले, वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशां होगा....हुआ भी यही। गोविंदपुरा बासड़ी गांव में दो दिनों से मेले की भीड़ जैसा ही माहौल है, लेकिन यहां खुशी नहीं गम और गर्व का माहौल है। जम्मू एंड कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद गांव के बेटे रोहिताश की शहादत पर यहां हर शख्स गर्व महसूस कर रहा है। दोपहर बाद 2 बजे अंत्येष्टि स्थल पर जब रोहिताश के छोटे भाई जीतेंद्र ने अपने सवा दो माह के भतीजे को गोद में लेकर मुखाग्नि दी तो हर शख्स की आंखों से आंसू छलक गए। भीड़ ने भारत माता के जयकारों, रोहिताश लांबा अमर रहे के नारे लगाकर शहीद को श्रद्धांजलि दी। इससे पहले शहीद का शव जैसे ही गांव में प्रवेश किया तो अपने सपूत की शहादत पर पूरा गांव ही रो उठा।शहीद रोहिताश लांबा का शव दिल्ली से सीआरपीएफ की सुरक्षा में शनिवार सुबह 5 बजे पुलिस थाना परिसर में पहुंचा
Pulwama Attack: शहीदों के लिए भावुक हुए सलमान खान, बोले- मेरा दिल रो रहा है

Pulwama Attack: शहीदों के लिए भावुक हुए सलमान खान, बोले- मेरा दिल रो रहा है

Entertainment
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले की सभी निंदा कर रहे हैं। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के 2500 से अधिक कर्मी 78 वाहनों के काफिले में जा रहे थे। इनमें से अधिकतर अपनी छुट्टियां बिताने... Live Hindustan Rss feed

ऐसा क्या कर रही थीं दिल्ली व हरियाणा 4 खूबसूरत लड़कियां, रो रहा था जमाना

India
चारों लड़कियों को एक कमरे में ले जाकर उनके श्रृंगार और सजावटी कपड़ों का त्याग कर उन्हें सफेद लिबास पहनाए गए। उनके सिर के बाल भी काटे गए। Jagran Hindi News - news:national