News That Matters

Tag: लक्षण

फूड पॉइजनिंग हो सकती है जानलेवा, जानिए लक्षण और बचने के उपाय

फूड पॉइजनिंग हो सकती है जानलेवा, जानिए लक्षण और बचने के उपाय

Health
फूड पॉइजनिंग का प्रमुख कारण अनियमित दिनचर्या और गलत खान-पान है। कच्ची सब्जियां, अधपका मांस, कच्चा दूध या उससे बनी चीजें, अंकुरित अनाज, समुद्री खाद्य पदार्थ आदि खाते हैं, तो आप फूड पॉइजनिंग की गिरफ्त... Live Hindustan Rss feed
शरीर में दिखाई दें ये लक्षण तो खराब हो सकती है किडनी

शरीर में दिखाई दें ये लक्षण तो खराब हो सकती है किडनी

Health
किडनी में मौजूद फिल्टर्स (ग्लोमेरुली) छलनी के रूप में काम कर अपशिष्ट व विषैले पदार्थ और अतिरिक्त लिक्विड को बाहर निकालने का काम करते हैं। दोनों किडनी में मौजूद कुल बीस लाख फिल्टर एक दिन में लगभग 170-180 लीटर रक्त को छानते हैं। कुछ कारणों से जब ये फिल्टर क्षतिग्रस्त हो जाते हैं तो इनमें सूजन आ जाती है जिसे ग्लूमेरुलो नेफ्राइटिस बीमारी कहते हैं। इसके कारण आंखों व शरीर में सूजन के अलावा यूरिन में प्रोटीन व ब्लड निकलने के साथ ब्लड प्रेशर बढ़ने व भूख घटने से स्थिति खतरनाक हो सकती है। ऐसे में किडनी के ठीक से काम न कर पाने से किडनी फेल होने की आशंका बढ़ जाती है। जानते हैं इस रोग के बारे में- फिल्टर ब्लॉक होने से आती है अंदरूनी सूजन -ग्लूमेरुलो नेफ्राइटिस प्रतिरोधी तंत्र की बीमारी है जिसमें एंटीबॉडी व एंटीजन से होने वाला प्रभाव सीधे किडनी पर होता है। इससे छलनी के सुराख ठीक से खुल नहीं पाते, ब्लॉक
Kidney Cancer: पेटदर्द व यूरिन में ब्लड हो सकते हैं किडनी कैंसर के लक्षण

Kidney Cancer: पेटदर्द व यूरिन में ब्लड हो सकते हैं किडनी कैंसर के लक्षण

Health
Kidney Cancer: किडनी (गुर्दे) में कैंसर की आशंका होने पर सोनोग्राफी कराएं, इससे स्थिति स्पष्ट हो जाती है। क्या किडनी में बनी गांठ कैंसर की ही होती है?किडनी की गांठ (रसोली) साधारण व कैंसर दोनों हो सकती है। कैंसर की गांठ बननेे के मुख्य कारण क्या हैं ?जेनेटिक, तंबाकू, मोटापा व उच्च रक्तचाप प्रमुख हैं। हाई ब्लड प्रेशर से किडनी कोशिकाओं में गांठ की आशंका ज्यादा होती है। क्या रोग की शुरुआती अवस्था में पहचान संभव है ?60-70 फीसदी मामलों में गुर्दे के कैंसर की गांठ का सोनोग्राफी के जरिए बिना किसी लक्षण आने से पहले पता लग जाता है। इसके मुख्य लक्षण पेटदर्द, यूरिन में खून आना, गांठ का महसूस होना आदि है। इसके अलावा एमआरआई और सीटी स्कैन जैसी जांचों की भी मदद ली जाती है। इसका इलाज क्या है ?यदि गुर्दे में गांठ छोटी (7 सेमी.) है तो इसे निकालकर किडनी को बचाया जा सकता है। गांठ बड़ी होने पर पूरी किडनी निकालनी
Endometriosis: महिलाओं की इस समस्या में होते हैं माहवारी जैसे लक्षण, जानें इसके बारे में

Endometriosis: महिलाओं की इस समस्या में होते हैं माहवारी जैसे लक्षण, जानें इसके बारे में

Health
Endometriosis: एंडोमेट्रियोसिस के लक्षणों में दर्द, अधिक रक्तस्त्राव व क्रॉनिक पैल्विक दर्द शामिल है। एंडोमेट्रियोसिस क्या है ?यह समस्या महिला में प्रजनन अंगों को प्रभावित करती है। जो गर्भाशय में सामान्य रूप से लाइनिंग बनाने वाले एंड्रोमेट्रियम ऊत्तक के गर्भाशय के बाहर बढ़ने के कारण होता है। इसमें माहवारी के दौरान ऊत्तकों में भी ब्लीडिंग होने से ब्लड ओवरी में जमकर गांठ का रूप ले लेता है। एक अनुमान के अनुसार, 10 में से एक महिला को उनके प्रजनन सालों (आमतौर पर 15 से 49 वर्ष की उम्र के बीच) में यह दिक्कत हो सकती है। इसके लक्षण क्या हैं ?इसके लक्षण आमतौर पर माहवारी जैसे होते हैं। जैसे माहवारी के दौरान तेज दर्द, क्रॉनिक पैल्विक दर्द, शारीरिक संपर्क के दौरान या बाद में दर्द, पेट के पास या निचले हिस्से में तेज दर्द होता है। इससे पीड़ित महिला को इसके कारण लगातार थकावट रहती है व यूरिन के दौरान परेशा

Bipolar disorder : क्यों आते हैं दिमाग में सुसाइड के विचार, क्या है ये बीमारी और क्या हैं इसके लक्षण और इलाज

India
Bipolar disorder इस बीमारी में कई बार व्यक्ति चाहकर भी अपने व्यवहार पर नियंत्रण नहीं रख पाता। आमतौर पर यह बीमारी नशीले पदार्थों का सेवन करने वाले लोगों में पाई जाती है। Jagran Hindi News - news:national
हफ्तेभर से सिरदर्द हो सकता है ब्रेन कैंसर का लक्षण

हफ्तेभर से सिरदर्द हो सकता है ब्रेन कैंसर का लक्षण

Health
दिमाग के विभिन्न हिस्सों में अनियमित रूप से कोशिकाओं का फैलना ब्रेन ट्यूमर होना है। ये कैंसररहित व कैंसरकारक दोनों तरह के हो सकते हैं। ज्यादातर मामलों में नॉनकैंसरस ट्यूमर के कैंसरग्रस्त होने की आशंका अधिक होती है। दिमाग का कैंसर दो तरह का होता है। पहला, जिसकी शुरुआत दिमाग की कोशिकाओं से होती है। इसे ग्लायोमा कैंसर ट्यूमर कहते हैं। वहीं, दूसरे प्रकार के कैंसर में ट्यूमर अन्य अंगों में फैलने के बाद दिमाग पर असर करता है। यह मेटास्टेटिक ब्रेन ट्यूमर कहलाता है। लक्षणएक हफ्ते से ज्यादा समय तक दर्दनिवारक दवा लेने के बावजूद सिरदर्द होना। उल्टी, नजरों का कमजोर होना या देखने में परेशानी, सुनने व बोलने में दिक्कत, सोचने-समझने की क्षमता व याददाश्त में कमी, हाथ-पैरों में कमजोरी और शारीरिक संतुलन बिगडऩे से चल-फिर न पाना। कारणआनुवांशिकता, रेडिएशन के संपर्क में आने, कमजोर प्रतिरोधी तंत्र या इससे जुड़े रो
सिर दर्द और माइग्रेन के अंतर को समझना है जरूरी, ये लक्षण करते हैं अलग

सिर दर्द और माइग्रेन के अंतर को समझना है जरूरी, ये लक्षण करते हैं अलग

Health
सिर में दर्द होना आम बात है। इसका महत्वपूर्ण कारण बदलती दिनचर्या है, जिसमें ना तो सोने का समय है, ना ही जागने का। आमतौर पर लोग सिर में होने वाले किसी भी किस्म के दर्द को माइग्रेन मान लेते हैं, जबकि... Live Hindustan Rss feed
B Alert – पेनक्रियाज के कैंसर में दिखते हैं पीलिया के लक्षण

B Alert – पेनक्रियाज के कैंसर में दिखते हैं पीलिया के लक्षण

Health
आनुवांशिक तौर पर असामान्य पेन्क्रिएटिक कोशिकाओं का अनियंत्रित रूप से बढ़ना पेंक्रिएटिक कैंसर कहलाता है।यह कैंसर दूसरे अंग में फैल सकता है। यह एक आक्रामक कैंसर है और ज्यादातर मामलों (80-90) में इसका पता इसके अधिक बढऩे के बाद चलता है। धूम्रपान, तंबाकू व मोटापा इसके मुख्य कारण हैं। इसके अलावा अल्कोहल, रेडिएशन व रेड मीट इसका जोखिम बढ़ाते हैं। रोग को समय रहते कैसे पहचानें?पीलिया, खुजली, पेट में दर्द, कमरदर्द, वजन कम होना, भूख कम लगना, बार-बार उल्टी आना, पीली मिट्टी के रंग का स्टूल आदि जैसे लक्षण दिखें तो डॉक्टरी सलाह लें। यदि हाल ही डायबिटीज या पेन्क्रिएटाइटिस की शुरुआत है तो, अलर्ट हो जाएं। क्या इसका इलाज संभव है?इसके ज्यादातर मरीज तब आते हैं जब बीमारी चौथे चरण (कैंसर का लिवर, फेफड़ों या हड्डियों तक फैलाव) में पहुंच चुकी होती है। बीमारी के शुरुआती चरण में इलाज संभव है लेकिन अधिक देर करने पर स्
Bone Cancer: जानिए बोन कैंसर के बारे में, कारण, लक्षण और इलाज

Bone Cancer: जानिए बोन कैंसर के बारे में, कारण, लक्षण और इलाज

Health
Bone Cancer : बोन कैंसर शरीर की किसी भी हड्डी में हो सकता है लेकिन यह ज्यादातर लंबी हड्डियों (जैसे हाथ व पैर) में होता है। अधिकतर मामले एक अंग से कैंसर के हड्डियों में फैलने के भी होते हैं। शुरुआती अवस्था में इसके लक्षणों की पहचान से प्रभावी इलाज संभव है। प्रमुख लक्षण : हड्डियों में दर्द, जोड़ के आसपास सूजन व दर्द, रोजमर्रा के काम करने में दिक्कत, कमजोर हड्डी के कारण हल्की गतिविधि से भी हड्डी का चटकना, थकान व बिना कारण वजन घटना।वजहें : अधिकतर मामलों में कारण अज्ञात होते हैं। कुछ मामलों में आनुवांशिकता को वजह माना जाता है। तीन प्रमुख रूप -विभिन्न अंगों से कैंसर की शुरुआत होने से इसे कई श्रेणियों में बांटा गया है।ओस्टियोसारकोमा : बच्चों में पैर-हाथ की हड्डी में।कॉन्ड्रोसारकोमा : उम्रदराज व्यक्तियों (40-50 वर्ष) में विशेषकर कूल्हे, पैर और हाथ की हड्डियों में।ईविंग्स सारकोमा : बच्चों व युवाओं
Chamki Bukhar : जल्द इलाज से बच सकती है मासूमों की जानें, Expert से जानें इसके लक्षण, कारण और उपाय

Chamki Bukhar : जल्द इलाज से बच सकती है मासूमों की जानें, Expert से जानें इसके लक्षण, कारण और उपाय

Health
चमकी बुखार एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) का ही एक प्रकार है। इसके लक्षण दिखते ही अच्छे अस्पताल में भर्ती कराने से मरीज की जान बचाई जा सकती है। लक्षण शुरू होने और इलाज शुरू करने के बीच जितना कम... Live Hindustan Rss feed