News That Matters

Tag: लक्षण

आपके बच्‍चे के लिए जानलेवा है डिप्थीरिया, जानें इसके कारण, लक्षण और बचाव

India
डिफ्थीरिया एक संक्रामक बीमारी है । इसके होने के बाद सांस लेने में काफी परेशानी होती है। यदि कोई व्‍यक्ति इस बीमारी से पीडि़त के संपर्क में आता है तो उसे भी डिफ्थीरिया हो सकता है। Jagran Hindi News - news:national
पेट के ऊपर दाहिने हिस्से में गांठ लिवर कैंसर का हो सकता है लक्षण

पेट के ऊपर दाहिने हिस्से में गांठ लिवर कैंसर का हो सकता है लक्षण

Health
ज्यादातर हेपेटाइटिस से पीड़ित मरीजों को लिवर कैंसर की शिकायत रहती है। हालांकि यह कैंसर औद्योगिक प्रदूषण से भी होता है। पेट में दर्द होना, पेट के ऊपर दाहिने हिस्से में गांठ महसूस हो तो समझ लीजिए लिवर... Live Hindustan Rss feed
तेजी से फैल रहा मलेरिया, कैसे पहचाने इसके लक्षण, जानें कारण और घरेलू उपचार

तेजी से फैल रहा मलेरिया, कैसे पहचाने इसके लक्षण, जानें कारण और घरेलू उपचार

Health
देशभर में मलेरिया का प्रकोप जारी है। बारिश के बाद तेज धूप। नाली-नालों में भरा पानी, कचरा...तेज धूप की वजह सडऩ। मच्छरों का पनपना। ये मच्छर ही हैं मलेरिया की असली वजह। मच्छरों से खुद बचाएं। घरों के जाली दरवाजे बंद रखें। मच्छर मारने वाली दवाइयों का छिड़काव करें। घर के आस-पास सफाई रखें, ताकि मच्छर न पनप पाएं। खान-पान का ध्यान रखें। ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं। जागरूकता ही मलेरिया का एकमात्र उपाय है। इन सबके बावजूद यदि मलेरिया के लक्षण दिखाई दें, तो तुरंत डॉक्टरी सलाह लें। उत्तर प्रदेश में मलेरिया का प्रकोप सबसे ज्यादा देखने में आ रहा है। अस्पतालों में लगातार मलेरिया के मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। राजधानी लखनऊ के साथ ही बरेली, बदायूं, शाहजहांपुर, पीलीभीत, खीरी, बहराइच और सीतापुर में तेजी से फैल रहे मलेरिया एवं बुखार को लेकर स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कड़े दिशा निर्देश ज
पेट के कैंसर का ये है मुख्य लक्षण, तुरंत डॉक्टरी सलाह लें

पेट के कैंसर का ये है मुख्य लक्षण, तुरंत डॉक्टरी सलाह लें

Health
आधुनिकता ने लोगों के जीने का तरीका बदल दिया है। भागमभाग मची है। क्या खाना है क्या नहीं खाना...कुछ तय नहीं...कब सोना है, कब जागना है, कुछ तय नहीं...। नतीजा बीमारी। बीमारी भी ऐसी, जो जाने ले ले। कैंसर के बढ़ते केसेस में इंसान की लाइफ स्टाइल का बहुत बड़ा हाथ है। इसी लाइफ स्टाइल का नतीजा है पेट का कैंसर। इसके शुरुआती लक्षणों से आसानी से पहचाना जा सकता है। जी हां, पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड के मुताबिक, अगर किसी व्यक्ति को तीन हफ्ते से ज्यादा सीने में जलन या भोजन निगलने में परेशानी हो, तो इस कंडीशन में तुरंत डॉक्टरी सलाह ले लेनी चाहिए, क्योंकि ज्यादातर लोग पेट के कैंसर के शुरुआती लक्षणों के बारे में नहीं जानते। विशेषज्ञों की मानें, तो पेट के कैंसर को पहचानने का ये सबसे अहम लक्षण है। लक्षणों की पहचान कैंसर के लक्षण जितनी जल्दी पहचान लिए जाएं, कैंसर का इलाज उतना ही आसान हो जाता है। यही वजह है कि पब्लिक
ये तो थायरॉइड के लक्षण हैं!

ये तो थायरॉइड के लक्षण हैं!

Health
क्या आजकल आप भुलक्कड़ हो गई हैं? किसी काम में ध्यान नहीं लगा पातीं? अचानक वजन घटने या बढऩे की समस्या से जूझ रही हैं? जरूरत से ज्यादा थकान महसूस हो रही है? तो सावधान हो जाएं और इन लक्षणों को नजरअंदाज न करें। यह थायरॉइड के संकेत हो सकते हैं। क्या है थायरॉइड? हमारे गले में अखरोट के आकार की थायरॉइड ग्रंथि होती है जो दो तरह के थायरॉइड हार्मोन टी3 और टी4 बनाती है। यह शरीर की सबसे जरूरी ग्रंथि है जो कई चीजों को नियंत्रित करती है जैसे नींद, पाचन तंत्र, मेटाबॉलिज्म, लिवर की कार्यप्रणाली और शरीर का तापमान आदि। आप थायरॉइड ग्रंथि को शरीर का सेंट्रल कंट्रोलर मान सकते हैं। यह दो प्रकार का होता है- हाइपोथायरॉइडिज्म और हाइपरथायरॉइडिज्म। हाइपो में वजन बढऩे लगता है और भूख कम लगती है। हाथ पांव में सूजन आ जाती है। सुस्ती और ठंड लगने से व्यक्ति परेशान रहता है। माहवारी में गड़बड़ी और याददाश्त में कमी हो जाती है
ये हैं चिकनगुनिया के लक्षण, बचाव तथा उपाय, चुटकी बजाते दूर होगा शरीर दर्द भी

ये हैं चिकनगुनिया के लक्षण, बचाव तथा उपाय, चुटकी बजाते दूर होगा शरीर दर्द भी

Health
इन दिनों वायरल इंफेक्शन के जरिए फैलने वाली बीमारियों में सबसे ज्यादा खतरनाक बीमारियां तीन मानी जाती है, (1) मलेरिया, (2) डेंगू तथा (3) चिकनगुनिया। इन तीनों के ही लक्षण काफी हद तक मिलते जुलते होते हैं परन्तु उनके फैलने का कारण अलग-अलग तरह के वायरस होते हैं। चिकनगुनिया का फैलावएडिस मच्‍छर के काटने से फैलने वाली चिकनगुनिया बीमारी संक्रामक बीमारी नहीं है वरन केवल तभी फैलती है जब संक्रमित मच्छर किसी स्वस्थ मनुष्य को काट लें। वर्ष 1953 में पहली बार चिकनगुनिया का मामला तंजानिया में पाया गया था, धीरे-धीरे दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में फैलते हुए आज यह एशिया के लगभग अधिकतर देशों में फैल चुका है। चिकनगुनिया के लक्षणइस बीमारी के लक्षण आमतौर पर संक्रमित मच्छर के काटने के 2 दिन से दो हफ्ते के बीच दिखाई देने लगते हैं। इसके लक्षण काफी हद तक वायरल इंफेक्शन, मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियों से मिलते जुलत
दुनिया की सबसे बड़ी व दुखदायी है ये बीमारी, कैसे पहचानें इसके लक्षण? यहा जानें

दुनिया की सबसे बड़ी व दुखदायी है ये बीमारी, कैसे पहचानें इसके लक्षण? यहा जानें

Health
नई दिल्ली। बीमारी ऐसी हो कि इनसान बातों को भूलने लगे, अपनों को ही पहचान न पाए और अपना दुख बता न पाए तो उसका और उसके अपनों का कष्ट कई गुना बढ़ जाता है। ऐसी ही बीमारी है अल्जाइमर। ऐसे में जब बार-बार भूलने लगें तो डाक्टर को दिखाना चाहिए। बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टीट्यूट के सीनियर कंसलटेंट न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. राजुल अग्रवाल ने अल्जाइमर रोग के प्रारंभिक लक्षणों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को रोजमर्रा के कामकाज में परेशानी होती है, फोन मिलाने और किसी काम में ध्यान लगाने में दिक्कत आने लगती है, कोई फैसला लेने की क्षमता कम हो जाती है, चीजें इधर उधर रखकर भूल जाते हैं, शब्द भूलने लगते हैं, जिससे सामान्य बातचीत में रुकावट आती है, अपने घर के आसपास की गलियों, रास्तों को भूल जाते हैं और उनके रोजमर्रा के व्यवहार में बहुत तेजी से बदलाव आता है। पी.एस.आर.आई हॉस्पिटल के न्यूरो
डेंगू से घबराए नहीं, ऐसे लक्षण दिखने पर तुरंत कराएं ये टेस्ट और उपचार

डेंगू से घबराए नहीं, ऐसे लक्षण दिखने पर तुरंत कराएं ये टेस्ट और उपचार

Health
भारत के कई प्रदेशों में डेंगू ( dengue Fever ) की दहशत हमेशा ही बनी रहती है। कभी-कभार मादा एनाफ्लिज मच्छरों की संख्या बढ़ने और उनके द्वारा काटे जाने पर डेंगू वायरल के तौर पर फैलता है जिसको रोक पाना मुश्किल हो जाता है। लेकिन समय रहते डेंगू के कारण, उसकी पहचान और उचित उपचार करके इस खरतनाक बीमारी से निजात पा सकते हैं जो इस प्रकार है— डेंगू को ऐसे पहचानें ( dengue fever Symptoms ) -मांसपेशियों एवं जोड़ों में दर्द, सिर दर्द व बुखार, कमजोरी, स्किन में रेशे का आना तथा उल्टी होना डेंगू के लक्षण हैं। डेंगू होने के कारण ( dengue fever causes ) -डेंगू एक तरह का बुखार है जो मच्छर के काटने से ही होता है। डेंगू सामान्य मच्छरों के नहीं बल्कि मादा एनाफ्लिज मच्छर के काटने से ही होता है। यह मच्छर अक्सर दिन के समय ही काटता है जिसके बाद बुखार आता है। डेंगू से बचने के लिए करें ये उपाय ( dengue fev
Health Tips : हाई बीपी के ये 4 लक्षण आप भी तो नहीं कर रहे नजरअंदाज

Health Tips : हाई बीपी के ये 4 लक्षण आप भी तो नहीं कर रहे नजरअंदाज

Health
हाई ब्‍लड प्रेशर के लक्षणों को समझना मुश्‍किल होता है, क्‍योंकि यह तभी उभर कर पूरी तरह सामने आते हैं जब स्‍थिति गंभीर हो जाती है। मगर आप कुछ बातों के आधार पर अपनी सेहत का ध्‍यान... Live Hindustan Rss feed
हर साल हजारों बच्चों की जान ले रहा है कैंसर, ऐसे पहचानें तुरंत लक्षण

हर साल हजारों बच्चों की जान ले रहा है कैंसर, ऐसे पहचानें तुरंत लक्षण

Health
नई दिल्ली। बच्चों में कैंसर बहुत आम नहीं है। कुछ पश्चिमी देशों में 10 लाख बच्चों में 110 से 130 बच्चों में इसकी शिकायत मिली है। आबादी के आधार पर पर्याप्त आंकड़े नहीं हो पाने के कारण भारत में इस तरह के मामलों का पूरी तरह अनुमान लगाना संभव नहीं है। हालांकि एक अनुमान के मुताबिक, 14 साल से कम उम्र के बच्चों में कैंसर के लगभग 40 से 50 हजार नए मामले हर साल सामने आते हैं। इनमें से बहुत से मामले डायग्नोस नहीं हो पाते। राजीव गांधी कैंसर इंस्टीट्यूट की सीनियर डॉक्टर गौरी कपूर (एमबीबीएस, एमडी, पीएचडी) के अनुसार प्राय: बेहतर स्वास्थ्य सेवा तक पहुंच नहीं होना या प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा कर्मियों द्वारा बच्चों में कैंसर के लक्षण नहीं पहचान पाना बीमारी पकड़ में नहीं आने का कारण होता है। कैंसर से जूझ रहे बच्चों के जीवित बचने के मामलों में पिछले 30 साल में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। आज की तारीख में बच्चों में