News That Matters

Tag: श्रीसंत

स्पॉट फिक्सिंग: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीसंत पर लगा आजीवन प्रतिबंध रद्द किया

स्पॉट फिक्सिंग: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीसंत पर लगा आजीवन प्रतिबंध रद्द किया

Indian Sports
सुप्रीम कोर्ट ने 2013 में बीसीसीआई की अनुशासनात्मक समिति के उस आदेश को रद्द कर दिया, जिसमें क्रिकेटर एस श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगाया गया था। बीसीसीआई की अनुशासनात्मक समिति से सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि वह तीन महीने के भीतर एस श्रीसंत को दी जाने वाली सजा की अवधि पर पुनर्विचार करे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Spot fixing case: Supreme Court asked the BCCI to reconsider its order of life ban on S Sreesanth Dainik Bhaskar

लिएंडर ने 42 साल की उम्र में ग्रैंड स्लैम जीता, मैं कम के कम कुछ क्रिकेट खेल सकता हूं: श्रीसंत

Indian Sports
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने बीसीसीआई को एस. श्रीसंत के आजीवन प्रतिबंध पर पुनर्विचार का आदेश दिया है जिसके बाद इस भारतीय क्रिकेटर ने कहा कि अगर लिएंडर पेस 42 साल की उम्र में ग्रैंड स्लैम जीत सकते हैं तो वे कम से कम 36 वर्ष में कुछ क्रिकेट खेल सकते ... खेल-संसार
42 वर्षीय पेस ग्रैंड स्लैम जीत सकते हैं तो मैं भी 36 की उम्र में क्रिकेट खेल सकता हूं- श्रीसंत

42 वर्षीय पेस ग्रैंड स्लैम जीत सकते हैं तो मैं भी 36 की उम्र में क्रिकेट खेल सकता हूं- श्रीसंत

Indian Sports
नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को एस श्रीसंत पर लगेआजीवन प्रतिबंध पर पुनर्विचार का आदेश दिया है। इस पर एस श्रीसंत ने कहा, "42 साल की उम्र में लिएंडर पेस अगर ग्रैंड स्लैम जीत सकते हैं तो मैं 36 साल की उम्र में क्रिकेट क्यों नहीं खेल सकता?"मुंबई के स्पिनर अंकित छवन, हरियाणा के अजीत चंडीला और श्रीसंत पर बीसीसीआई की अनुशासनात्मक समिति ने क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया था, जिसके बाद खिलाड़ियों ने कोर्ट में फैसले को चुनौती दी थी।न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति के एम जोसेफ की पीठ ने कहा कि बीसीसीआई की अनुशासनात्मक समिति श्रीसंत को दी जाने वाली सजा की अवधि पर तीन महीने के अंदर पुनर्विचार कर सकती है।"6 साल से मैंने क्रिकेट नहीं खेला, जो मेरी जिंदगी है"सुप्रीम कोर्ट से राहत भरे फैसले के बाद श्रीसंत ने कहा, "मैं नहीं जानता कि इतने वर्ष

Spot fixing case: श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध को लेकर पुनर्विचार करे BCCI- सुप्रीम कोर्ट

Indian Sports
Spot fixing मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में बीसीसीआई से तीन महीने के भीतर एस श्रीसंत की याचिका पर पुनर्विचार करने को कहा है। Jagran Hindi News - cricket:headlines

श्रीसंत को बड़ी राहत, सुप्रीम कोर्ट ने आजीवन प्रतिबंध हटाया

Indian Sports
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को क्रिकेटर एस श्रीसंत को बड़ी राहत देते हुए उन पर आजीवन प्रतिबंध लगाने संबंधी बीसीसीआई अनुशासनात्मक समिति के 2013 के आदेश को दरकिनार कर दिया। खेल-संसार
सुप्रीम कोर्ट ने श्रीसंत से आजीवन प्रतिबंध हटाया, बीसीसीआई से सजा पर पुनर्विचार करने को कहा

सुप्रीम कोर्ट ने श्रीसंत से आजीवन प्रतिबंध हटाया, बीसीसीआई से सजा पर पुनर्विचार करने को कहा

Indian Sports
नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने 2013 में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की अनुशासनात्मक समिति के उस आदेश को रद्द कर दिया है, जिसमें क्रिकेटर एस श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगाया गया था। अदालत ने बीसीसीआई की अनुशासनात्मक समिति से कहा है कि वह तीन महीने के भीतर श्रीसंत को दी जाने वाली सजा की अवधि पर पुनर्विचार करे।जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने बीसीसीआई से कहा कि श्रीसंत को दी गई सजा की अवधि पर वह नए सिरे से फैसला ले। वह यह काम तीन महीने के भीतर पूरा कर ले।मैं मैदान पर वापसी को तैयार : श्रीसंतसुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद श्रीसंत ने कहा, ‘सेलेक्शन वगैरह सिलेक्टर्स के ऊपर है। अभी बहुत लाइफ बाकी है तो जय माता दी। बहुत बार ऐसा हुआ है कि खिलाड़ियों को इंजरी हुई है। मैं ऐसा सोचूंगा की मेरे साथ बड़ी इंजरी थी। अगर लिएंडर पेस जैसे महान खिलाड़ी 4

बिग बॉस के भाई-बहन के बीच आई दरार, श्रीसंत ने किया दीपिका कक्कड़ को सोशल मीडिया पर अनफॉलो

Entertainment
बिग बॉस 12 (Bigg Boss 12) में भाई-बहन के रूप में नजर आए श्रीसंत (Sreesanth) और दीपिका कक्कड़ (Dipika Kakar) के रिश्ते में दरार आ गई है। श्रीसंत ने दीपिका को इंस्टाग्राम पर अनफॉलो कर दिया है। मनोरंजन
श्रीसंत ने दीपिका कक्कड़ को सोशल मीडिया पर किया अनफॉलो, वजह जानकर होंगे हैरान

श्रीसंत ने दीपिका कक्कड़ को सोशल मीडिया पर किया अनफॉलो, वजह जानकर होंगे हैरान

Entertainment
पॉपुलर रियलिटी शो बिग बॉस-12 में भाई-बहन के रूप में नजर आने वाले श्रीसंत और दीपिका कक्कड़ (Sreesanth-Deepika Kakkar) के बीच कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। पिछले कुछ समय से लगातार दोनों के बीच अनबन... Live Hindustan Rss feed

न्यायालय की श्रीसंत को लताड़, स्पॉट फिक्सिंग की जानकारी BCCI को क्यों नहीं दी?

Indian Sports
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को जीवनभर के प्रतिबंध का सामना कर रहे क्रिकेट खिलाड़ी एस श्रीसंत से सवाल किया कि 2013 में कथित स्पॉट फिक्सिंग के बारे में उससे संपर्क किए जाने की जानकारी उसने तत्काल ही बीसीसीआई को क्यों नहीं दी। खेल-संसार
श्रीसंत को नहीं मिली राहत; बुकी के संपर्क करने वाली बात तुरंत क्यों नहीं बताई – सुप्रीम कोर्ट

श्रीसंत को नहीं मिली राहत; बुकी के संपर्क करने वाली बात तुरंत क्यों नहीं बताई – सुप्रीम कोर्ट

Indian Sports
नई दिल्ली. लाइफटाइम का बैन झेल रहे एस श्रीसंत को बुधवार को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली। श्रीसंत की याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने सवाल किया कि 2013 में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कथित स्पॉट फिक्सिंग के बारे में संपर्क किए जाने पर उन्होंने बीसीसीआई को तुरंत यह बात क्यों नहीं बताई थी? जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस केएम जोसेफ की बेंच ने कहा कि इसे पूरे मामले में उनका आचरण अच्छा नहीं था।2015 में निचली अदालत से बरी हुए थे श्रीसंतनिचली अदालत ने 2015 में श्रीसंत को कथित स्पॉट फिक्सिंग में आपराधिक मामले से बरी कर दिया था। हालांकि, बाद में केरल हाई कोर्ट ने श्रीसंत पर लगाए गए लाइफटाइम बैन को बहाल कर दिया। श्रीसंत ने हाई कोर्ट के उसी फैसले को चुनौती दी है। श्रीसंत ने अपनी अर्जी में निचली अदालत के फैसला का हवाला देते हुए कहा है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई)