News That Matters

Tag: संन्यास

मलेशियाई खिलाड़ी ली चोंग का संन्यास, 348 हफ्ते नंबर-1 पर रहे

मलेशियाई खिलाड़ी ली चोंग का संन्यास, 348 हफ्ते नंबर-1 पर रहे

Indian Sports
कुआलालंपुर. मलेशिया के ली चोंग वेई ने 19 साल बैडमिंटन खेलने के बाद गुरुवार को संन्यास का ऐलान कर दिया। 36 साल के ली चोंग वेई 348 हफ्ते तक वर्ल्ड नंबर-1 रहे। लेकिन कभी वर्ल्ड और ओलिंपिक चैंपियन नहीं बन सके। उन्हें 6 वर्ल्ड और ओलिंपिक फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था।संन्यास की घोषणा करते हुए उन्होंने कहा, 'यह खेल बहुत डिमांडिंग हैं और अब मैं पहले जैसा नहीं खेल पा रहा था। मुझे 19 साल सपोर्ट करने के लिए सभी लोगों का शुक्रिया। अब मैं परिवार के साथ वक्त बिताऊंगा।' उन्हें पिछले साल नाक का कैंसर हुआ था। उनका ताइवान में इलाज चला था। तब से वे बैडमिंटन कोर्ट से दूर थे। वे वापसी कर टोक्यो ओलिंपिक-2020 में खेलना चाहते थे। लेकिन फिटनेस साथ नहीं दे रही थी।करियर में 69 टाइटल जीतेली चोंग मलेशिया के सबसे सफल ओलिंपियन और बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। उन्होंने ओलिंपिक में 3 सिल्वर, वर्ल्ड चैंपिय
मलेशियाई बैडमिंटन खिलाड़ी ली चोंग का संन्यास, 348 हफ्ते नंबर-1 रहे

मलेशियाई बैडमिंटन खिलाड़ी ली चोंग का संन्यास, 348 हफ्ते नंबर-1 रहे

Punjab
मलेशिया के ली चोंग वेई ने 19 साल बैडमिंटन खेलने के बाद संन्यास ले लिया। 36 साल के ली चोंग वेई 348 हफ्ते तक वर्ल्ड नंबर-1 रहे। लेकिन कभी वर्ल्ड और ओलिंपिक चैंपियन नहीं बन सके। उन्हें 6 वर्ल्ड और ओलिंपिक फाइनल में हार का सामना करना पड़ा था। संन्यास की घोषणा करते हुए उन्होंने कहा, ‘यह खेल बहुत डिमांडिंग हैं और अब मैं पहले जैसा नहीं खेल पा रहा था। मुझे 19 साल सपोर्ट करने के लिए सभी लोगों का शुक्रिया। अब मैं परिवार के साथ वक्त बिताऊंगा।’ उन्हें पिछले साल नाक का कैंसर हुआ था। उनका ताइवान में इलाज चला था। तब से वे बैडमिंटन कोर्ट से दूर थे। वे वापसी कर टोक्यो ओलिंपिक-2020 में खेलना चाहते थे। लेकिन फिटनेस साथ नहीं दे रही थी। ली चोंग मलेशिया के सबसे सफल ओलिंपियन और बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। उन्होंने ओलिंपिक में 3 सिल्वर, वर्ल्ड चैंपियनशिप में 3 सिल्वर, 1 ब्रॉन्ज जीता। ली चोंग वेई ने क
कैंसर से जूझ रहे बैडमिंटन स्टार ली चोंगे वेई ने लिया संन्यास

कैंसर से जूझ रहे बैडमिंटन स्टार ली चोंगे वेई ने लिया संन्यास

Indian Sports
तीन बार के ओलंपिक रजत विजेता मलेशिया के स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी ली चोंग वेई ने गुरुवार को बैडमिंटन से संन्यास लेने की घोषणा कर दी। ली चोंग को पिछले वर्ष नाक में कैंसर हो गया था। ली चोंग ने संवाददाता... Live Hindustan Rss feed
इंटरकॉन्टिनेंटल कप: स्टीमाक ने संन्यास ले चुके अनस को शिविर में किया शामिल

इंटरकॉन्टिनेंटल कप: स्टीमाक ने संन्यास ले चुके अनस को शिविर में किया शामिल

Indian Sports
भारत फुटबॉल टीम के मुख्य कोच इगोर स्टीमाक डिफेंडर अनस इदाथोडिका को संन्यास से वापसी कराते हुए अगले महीने होने वाले इंटरकॉन्टिनेंटल कप के 35 संभावित खिलाड़ियों में शामिल किया है। स्टीमाक का यह कदम... Live Hindustan Rss feed

युवराज के संन्यास पर भावुक हुए हिटमैन रोहित शर्मा, कहा- ‘एक बेहतर विदाई के थे हकदार!’

Indian Sports
टीम इंडिया के हिटमैन रोहित शर्मा ने भी युवराज सिंह के लिए एक भावुक ट्वीट किया। Jagran Hindi News - cricket:headlines

संन्यास के बाद युवराज सिंह बोले, मेरी मां शबनम सिंह मेरी ताकत हैं

Indian Sports
मुंबई। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सोमवार को संन्यास का ऐलान करने वाले दिग्गज ऑलराउंडर युवराज सिंह ने कहा कि उनकी मां हमेशा उनकी ताकत रही हैं और उनसे उन्हें प्रेरणा मिलती है। खेल-संसार

Yuvraj Singh के संन्‍यास पर बोले दिग्‍गज- युवराज तेरे जैसा कोई नहीं

Indian Sports
युवराज के संंन्‍यास की खबर सोशल मीडिया पर आते ही सनसनी मच गई। दिग्‍गज क्रिकेटरों ने युवराज के खेल को याद करते हुए उनके आगामी भविष्‍य के लिए शुभकामनाएं दी हैं। Jagran Hindi News - cricket:headlines

Yuvraj Singh का इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास, बोले- खेल ने मुझे बहुत कुछ सिखाया

Indian Sports
Yuvraj Singh retires from international cricket भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी। Jagran Hindi News - cricket:headlines

संन्यास के बाद आईपीएल में भी नहीं खेलेंगे युवराज सिंह

Indian Sports
मुंबई। कैंसर पर विजय हासिल करने के आठ साल बाद भावुक युवराज सिंह ने सोमवार को उतार-चढ़ाव से भरे अपने करियर को अलविदा कहने की घोषणा की जिसमें उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि भारत की 2011 की विश्व कप जीत में अहम योगदान रहा। वे इंडियन प्रीमियर लीग में नहीं ... खेल-संसार
असली सन्यास तो शुद्ध कमाई व सात्विक भोजन करना ही पसंद करता है: अग्रवाल

असली सन्यास तो शुद्ध कमाई व सात्विक भोजन करना ही पसंद करता है: अग्रवाल

Haryana
श्री राम शरणम केंद्र में आयोजित सत्संग के दौरान उपस्थित श्रद्धालु। भास्कर न्यूज | यमुनानगर रविवार को श्री राम शरणम केंद्र में साप्ताहिक अमृतवाणी सत्संग का आयोजन किया गया। यहां उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए केंद्र के प्रमुख सेवादार डॉ. रोमेश अग्रवाल ने कहा कि घर परिवार व अपने कर्तव्य कर्म को त्याग देना सन्यास नहीं है। असली सन्यास तो शुद्ध कमाई करना व शुद्ध अन्न का सेवन करना है। उन्होंने कहा कि सभी कर्म निष्काम भाव से करना ही भक्ति सन्यास है। भक्ति प्रकाश सद्ग्रंथ से सुलभा के प्रसंग की व्याख्या करते हुए अग्रवाल ने कहा कि यह बात राजा जनक ने सुलभा को नीमत बनाकर हम सब गृहणियों को कही। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं पर स्वामी सत्यानंद, प्रेम व संत नरकेवल बेदी महाराज की हमेशा ही असीम कृपा रहती है। इससे पहले प्रिया गर्ग, कुमारी सुमिति शर्मा व शालिनी गुप्ता ने अमृतवाणी क