News That Matters

Tag: सबसे

रच गया इतिहास: 20 साल में लोकसभा में सबसे अधिक काम, 128 फीसदी कामकाज दर्ज

रच गया इतिहास: 20 साल में लोकसभा में सबसे अधिक काम, 128 फीसदी कामकाज दर्ज

India
सत्रहवीं लोकसभा के मौजूदा सत्र में पिछले 20 साल में सबसे ज्यादा कामकाज हुआ है और पीआरएल लेजिस्लेटिव रिसर्च की एक रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार तक निचले सदन में 128 प्रतिशत कामकाज हुआ है। सदन में... Live Hindustan Rss feed
दिल्ली ने साल की सबसे साफ हवा में ली सांस

दिल्ली ने साल की सबसे साफ हवा में ली सांस

Delhi
राजधानी में पिछले कुछ दिन से हो रही बारिश से यहां की आबोहवा साफ होने लगी है। इससे एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) संतोषजनक की श्रेणी में पहुंच गया। बुधवार को इस साल की सबसे साफ आबोहवा का रिकाॅर्ड बन गया। सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक बुधवार को दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स 73 दर्ज किया गया। यह साल 2019 में सबसे कम है। इससे पहले सबसे कम इसी साल 17 अप्रैल को 84 रहा था। दिल्ली के 35 में से 32 सेंटरों पर एक्यूआई संतोषजनक रहा। साल 2018 में 17 जुलाई को 91 था। इसके आसपास के दिनाें में एक्यूआई संतोषजनक की कैटेगिरी में ही बना रहा। दिल्ली के अलावा एनसीआर के दूसरे कई शहरों में भी एक्यूआई संतोषजनक की श्रेणी में है। फरीदाबाद में तो ये अच्छे की श्रेणी में 45 तक जा पहुंचा। चिंता... मानसून सीजन में 1 जून से 17 जुलाई तक सामान्य से 47% कम बारिश दिल्ली-एनसीआर में म
विधानसभा चुनाव: UP की सियासत में सबसे बड़े वोटबैंक की लड़ाई तेज

विधानसभा चुनाव: UP की सियासत में सबसे बड़े वोटबैंक की लड़ाई तेज

India
सपा-बसपा के बाद अब भारतीय जनता पार्टी द्वारा ओबीसी वर्ग से आने वाले स्वतंत्र देव सिंह को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के बाद प्रदेश में ओबीसी के सबसे बड़े वोटबैंक की लड़ाई और तेज हो गई है। सवाल उठ रहे हैं... Live Hindustan Rss feed
ये हैं दुनिया के सबसे महंगे स्मार्टफोन, कीमत है करोड़ों में

ये हैं दुनिया के सबसे महंगे स्मार्टफोन, कीमत है करोड़ों में

Indian Technology
चीन की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी शाओमी ने भारतीय बाजार में अपनी ‘के’ सीरीज के दो स्मार्टफोन उतारे हैं। ये स्मार्टफोन हैं-रेडमी के20 और रेडमी के20 प्रो। लंबे समय से इन स्मार्टफोन का इंतजार... Live Hindustan Rss feed
885 करोड़ में बना सुप्रीम कोर्ट का सबसे आधुनिक भवन, पुरानी और नई इमारत सुरंग से जोड़ी गई

885 करोड़ में बना सुप्रीम कोर्ट का सबसे आधुनिक भवन, पुरानी और नई इमारत सुरंग से जोड़ी गई

Delhi
नई दिल्ली.राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग का उद्‌घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की नई इमारत अनूठी है, क्योंकि यह सौर उर्जा, पर्यावरण और जलसंरक्षण की खासियत अपने अंदर समेटे हुए है। इस मौके पर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद भी मौजूद थे।12.19 एकड़ में बनी इस बिल्डिंग को सुरंग के जरिए सुप्रीम कोर्ट की पुरानी बिल्डिंग से जोड़ा गया है। इस पर 885 करोड़ रुपए का खर्च आया है। सुप्रीम कोर्ट का सारा प्रशासनिक काम, मुकदमों की फाइलिंग, कोर्ट के आदेशों और फैसलों की कापियां लेने आदि सभी काम पुरानी बिल्डिंग से इस नई बिल्डिंग में शिफ्ट हो जाएगा। पर अदालतें पुरानी बिल्डिंग में ही लगेंगी।अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले 9 भाषाओं में: इस मौके पर राष्ट्रपति कोविंद ने सुप्रीम कोर्ट के फैसलों के 9 क्षेत्रीय भ
सुनाम व संगरूर में इस साल अब तक की सबसे अधिक बरसात, दिड़बा बिजली ग्रिड में घुसा पानी

सुनाम व संगरूर में इस साल अब तक की सबसे अधिक बरसात, दिड़बा बिजली ग्रिड में घुसा पानी

Punjab
मंगलवार की बारिश इस वर्ष की सबसे अधिक बरसात दर्ज की गई है। सोमवार रात से मंगलवार शाम तक शहर में 50 एमएम बरसात दर्ज की गई है। 18 अप्रैल 2019 को शहर में 35.6 बरसात हुई थी। हालांकि पिछले वर्ष आज के दिन बरसात नहीं थी परंतु 4 जुलाई 2018 को 110 एमएम बरसात ने 9 वर्ष के रिकार्ड को तोड़ दिया था। इस बार मौसम विभाग ने 21 जुलाई तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। ऐसे में शहर में इससे अधिक बरसात से इंकार नहीं किया जा सकता है। दुख इस बात का है कि शहर में पानी निकासी के सभी प्रबंध नकारा साबित हुए हैं ऐसे में लोगों को आने वाले दिनों में बरसात का डर सता रहा है। जिले के विभिन्न शहरों में सड़कों और गलियों में पानी भरने के साथ-साथ खेतों तक भी पानी भर गया है, जिससे फसलों को नुकसान पहुंचने का खतरा भी बना हुआ है। सोमवार सुबह से ही रूक- रूककर बरसात का सिलसिला चल रहा था। सोमवार रात को करीब साढ़े
हज पर जाने वालों में 1 साल की अल्फीजा सबसे छोटी और 81 वर्षीया हमीदा सबसे बड़ी

हज पर जाने वालों में 1 साल की अल्फीजा सबसे छोटी और 81 वर्षीया हमीदा सबसे बड़ी

Rajasthan
जयपुर.मुकद्दस सफर हज 2019 का प्रदेश मेंं आगाज हो गया है। जयपुर एयरपोर्ट के टर्मिनल दो से देर रात को हजयात्रा कि पहली फ्लाइट आधी रात के बाद 1.40 बजे पर रवाना हो गई। फ्लाइट में 421 हजयात्री मदीना मेंं सुबह 5.05 बजे पहुंचेंगे।हज यात्रा में एक साल की सबसे छोटी हजयात्री अल्फीज़ा परवीन और सबसे बड़ी हजयात्री 81 वर्षीया हमीदा है। दोनों अजमेर के रहने वाले हैं। दूसरी फ्लाइट 20 तारीख को उड़न भरेगी। हज यात्रियों को हज हाउस से लो फ्लोर बसों एवं अन्य साधनों से एयरपोर्ट लाया गया।जिलेवार यात्रियों कि संख्या ज़िले संख्या अजमेर 325 बारांग 68 जयपुर 12 भीलवाड़ा 6 डूंगरपुर 2 जैसलमेर 1 नागौर 1 Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today First flight of Haj pilgrims departing from Jaipur
सबसे कम उम्र में गोल करने वाले दूसरे युवा खिलाड़ी बने नरेंदर, भूटिया को पछाड़ा

सबसे कम उम्र में गोल करने वाले दूसरे युवा खिलाड़ी बने नरेंदर, भूटिया को पछाड़ा

Indian Sports
भारतीय फुटबाल टीम के खिलाड़ी नरेंदर गहलोत सबसे कम उम्र में गोल करने वाले देश के दूसरे सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं। गोल. कॉम की रिपोर्ट के अनुसार, 18 साल और 83 दिन के नरेंदर ने मंगलवार रात यहां खेले गए... Live Hindustan Rss feed
देश के सबसे खराब भूजल स्तर वाले जिलों में दिल्ली के 10 जिले शामिल

देश के सबसे खराब भूजल स्तर वाले जिलों में दिल्ली के 10 जिले शामिल

Delhi
भास्कर न्यूज | नई दिल्ली/नोएडा एनसीआर में दिल्ली, गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद में भूजल स्तर प्रतिवर्ष 1 से 2 मीटर की दर से गिर रहा है। इसके अलावा भूजल दूषित भी हो रहा है। प्रधानमंत्री के जल शक्ति अभियान के तहत हाल ही की एक रिपोर्ट में देश में 255 जिलों को सबसे ज्यादा वॉटर स्ट्रेस वाला घोषित किया गया है। इन 255 जिलों में दिल्ली के 10 जिलों को शामिल किया गया है। गौतमबुद्ध नगर और गाजियाबाद भी इस सूची में हैं। इन जिलों में जल संरक्षण के लिए 1 जुलाई से ही उपाय शुरू कर दिए गए हैं। इसे लेकर 30 नवंबर तक रिपोर्ट बनाकर भारत सरकार को सौंपी जानी है। एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक, भूजल दोहन अधिक व रिचार्ज कम होने से यहां के ज्यादातर इलाकों में भूजल स्तर हर साल 0.5-2 मीटर नीचे गिर रहा है। भूजल दोहन अधिक होने से दिल्ली के भूजल का 76 फीसदी हिस्सा इस्तेमाल के लायक ही नहीं रहा है। इसमें सा
सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग का आज उद्घाटन; दिल्ली में सबसे ज्यादा सौर ऊर्जा पैदा करने वाली यह इमारत 885 करोड़ रुपए में बनी है

सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग का आज उद्घाटन; दिल्ली में सबसे ज्यादा सौर ऊर्जा पैदा करने वाली यह इमारत 885 करोड़ रुपए में बनी है

Delhi
जजों और वकीलों के लिए इसमें देश की सबसे बड़ी लाइब्रेरी भी भास्कर न्यूज | नई दिल्ली सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग बनकर तैयार है। इसका उद्घाटन बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेंगे। 12.19 एकड़ में बनी इस नई इमारत में पांच ब्लाॅक हैं। जजों और वकीलों के लिए देश की सबसे बड़ी लाइब्रेरी बनाई गई है। यह तीन फ्लोर तक फैली है। इमारत को भूमिगत रास्ते के जरिए पुरानी बिल्डिंग से जोड़ा गया है। सुप्रीम कोर्ट का प्रशासनिक काम, मुकदमों की फाइलिंग, कोर्ट के आदेशों की कापियां लेने आदि सभी काम इस नई बिल्डिंग में होंगे। इसकी लागत 885 करोड़ रु. आई है। 27 सितंबर 2012 को रखी गई थी इस इमारत की नींव, इसमें सभी फाइलों का डिजिटल रिकॉर्ड रखा जाएगा 14 सौ किलोवॉट सोलर ऊर्जा पैदा की जाएगी इस बिल्डिंग में बड़े सोलर पैनल लगे हैं। इससे 1400 किलोवॉट सौर उर्जा तैयार की जाएगी। इसमें से 40% खुद के इस्तेमाल म