News That Matters

Tag: समय

रैंप पर उतरते समय कांफिडेंट रहें, जजेज से आई कांटेक्ट रखें

रैंप पर उतरते समय कांफिडेंट रहें, जजेज से आई कांटेक्ट रखें

Rajasthan
भानुप्रताप सिंह चाैहान| जाेधपुर इन दिनाें गर्ल्स में मॉडलिंग का क्रेज बढ़ रहा है। मॉडलिंग फील्ड में जाने का एंट्री गेट ऑडिशन के जरिए ही ओपन होता है। ऑडिशन में जजेज मॉडल के एक्सप्रेशन, वाॅक अाैर कम्युनिकेशन स्किल काे भी देखते हैं। रविवार काे मिस एलीट राजस्थान 2018 रहीं अर्शीना सम्बल जोधपुर में थीं। सिटी भास्कर ने उनसे ऑडिशन के लिए गर्ल्स कैसे तैयारी करें, इस पर बात की। अर्शीना ने अपना एक्सपीरियंस बताते हुए कहा कि जब मैं पहली बार ऑडिशन देने गई तो मुझे भी नहीं पता था कि वहां जाने से पहले मेकअप करके जाना चाहिए। मैं बिना मेकअप चली गई। वहां जाकर सीखा कि हम जब एक माॅडल के ताैर पर रैंप पर आते हैं तो सामने बैठे हर व्यक्ति की नजर हम पर हाेती है। एेसे में स्माइल और कॉन्फिडेंस के साथ पता होना चाहिए कि क्या बोल रहे हैं। इस फील्ड में मॉडल को रिजेक्शन के लिए तैयार रहना चाहिए और इसे चै
डिटॉक्स डाइट लेते समय आप भी तो नहीं करते ये गलतियां

डिटॉक्स डाइट लेते समय आप भी तो नहीं करते ये गलतियां

Health
शरीर में तरल की मात्रा बढऩे पर थकान, कब्ज, यूरिनरी प्रॉब्लम, हृदय रोग, मोटापा, डायबिटीज, अन्य जीवनशैली संबंधी रोगों से बचाव होता है। डिटॉक्सीफिकेशन के लिए आयुर्वेद में औषधियुक्त काढ़ा देते हैं। इससे लिवर व किडनी की कार्यप्रणाली सुधरती है।तरल पदार्थ ज्यादा लेंशरीर में सबसे पहले पानी की मात्रा बढ़ाते हैं। इसके लिए पानी, जूस, नींबू पानी, नारियल पानी छाछ आदि दिया जाता है। एक दिन में कम से कम 5-6 लीटर पानी, तरल पदार्थ देते हैं। खानपान में ऐसे फल शामिल करते हैं जिनमें रेशे व पानी की मात्रा अधिक होती है। मौसमी, नींबू, संतरा, खीरा, ककड़ी, तरबूज, खरबूज आदि ज्यादा लेने की सलाह दी जाती है। इस तरह के खानपान से परहेज जरूरीप्रिजर्वेटिव वाली चीजें, चीनी, जंक फूड आदि न लें। स्मोकिंग, शराब न पीएंं। फ्राइड, फास्ट फूड न लें। विरुद्ध आहार व फल न लें। आइसक्रीम के साथ गुलाब जामुन न लें। दूध वाले आहार के साथ नमक
लक्षणों की सही समय पर पहचान कर न बनने दें अस्थमा रोग को गंभीर

लक्षणों की सही समय पर पहचान कर न बनने दें अस्थमा रोग को गंभीर

Health
यह है समस्या अस्थमा एक तरह से एलर्जी का ही एक प्रकार है। इसमें कुछ कारणों से बार-बार सांस लेने में तकलीफ और खांसी की समस्या होती है। हालांकि हर उम्र और प्रकृति के व्यक्ति और समस्या की गंभीरता के अनुसार दौरे की प्रवृत्ति अलग-अलग हो सकती है। इससे मरीज दिन में एक दो बार या कई बार या हफ्ते में कुछ बार परेशान होता है। कुछ इतने परेशान हो जाते हैं कि दैनिक कार्य ही नहीं कर पाते।अस्थमा अटैकशुद्ध हवा को मुंह और नाक के जरिए फेफड़ों तक पहुंचाने वाली ब्रॉन्कियल ट्यूब में सूजन आने से सांस लेने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। अस्थमा अटैक के दौरान इन ट्यूब की लाइनिंग में सूजन बरकरार रहने से नलियां सिकुड़ जाती हैं और व्यक्ति को सांस लेने में बाधा आती है। लक्षणों का बार-बार सामना करने से मरीज को नींद न आने, दिनभर थकान और मन न लगने की शिकायत रहती है। कारण अस्थमा एक तरह से एलर्जी का ही रूप है। इसमें
जीएसटी में आधार के जरिए हो सकेगा रजिस्ट्रेशन, सालाना रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा 2 महीने बढ़ी

जीएसटी में आधार के जरिए हो सकेगा रजिस्ट्रेशन, सालाना रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा 2 महीने बढ़ी

India
नई दिल्ली. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में शुक्रवार को जीएसटी काउंसिल की पहलीबैठक हुई। इसमें कई अहम फैसले लिए गए। राजस्व सचिव अजय भूषण पांडेय ने बताया कि बैठक में यह फैसला लिया गया कि अब व्यापारी आधार के जरिए जीएसटी के तहत रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। पहले इसके लिए कई दस्तावेजों की जरूरत होती थी। उन्होंने बताया कि आधार के जरिए रजिस्ट्रेशन से व्यापारियों को कई फायदे भी होंगे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें GST Council | GST Council Meeting: Businesses can use Aadhaar, Extends Date for Annual Returns Dainik Bhaskar
नहाने के बाद तौलिया सुखाते समय हादसा, छोटे को लगा करंट तो बड़ा भाई बचाने को दौड़ा, दोनों की मौत

नहाने के बाद तौलिया सुखाते समय हादसा, छोटे को लगा करंट तो बड़ा भाई बचाने को दौड़ा, दोनों की मौत

Haryana
शाहाबाद / झांसा.नलवी गांव में घर पर करंट लगने से दो सगे भाइयों 32 वर्षीय गुरजंट सिंह और 31 वर्षीय गुरजीत सिंह की मौत हो गई। दोनों भाई अविवाहित थे। गुरजंट व उसका छोटा भाई मंगलवार को खेतों में गए हुए थे। जहां से काम निपटा कर देर रात वापस लौटे। पहले गुरजंट नहाकर खाना खाने बैठ गया। गुरजीत नहाने लगा। नहाने के बाद गुरजीत आंगन में लगी तार पर तौलिया सूखने के लिए डालने लगा। तभी वह करंट की चपेट में आ गया। उसकी चीख सुनकर गुरजंट बचाने दौड़ा।इसी बीच तार टूट कर गुरजंट पर आ गिरी, जिससे गुरजंट भी करंट की चपेट में आ गया। जिससे दोनों बेसुध होकर गिर पड़े। उस वक्त बड़े भाई गुरमीत सिंह, भाभी कुलदीप समेत घर में अधिकांश सदस्य सो रहे थे। उनकी चीख सुनकर पिता बलवंत सिंह बाहर निकले। मृतकों का बड़ा भाई आरएमपी है। जांच में दोनों की नब्ज बंद मिली। तुरंत दोनों को अस्पताल भी ले गए। जहां चिकित्सकों ने
जोड़ बदलवातेे समय डिजाइन देखकर न हों भ्रमित

जोड़ बदलवातेे समय डिजाइन देखकर न हों भ्रमित

Health
फायदों को लेकर अलग-अलग दावे किए जाते हैंआमतौर पर जब लोग जोड़ प्रत्यारोपण कराने जाते हैं तो उन्हें अस्पतालों में मोटे-पतले, भारी हल्के जोड़ों के कई डिजाइन दिखाए जाते हैं व फायदों को लेकर अलग-अलग दावे किए जाते हैं। इसके चलते लोग भ्रमित हो जाते हैं। वे सर्जरी के बेहतर परिणामों के लिए मोटी रकम खर्च करते हैं फिर भी संतोषजनक परिणाम नहीं मिलते। सफलता विशेषज्ञ की कुशलता पर निर्भर करती है जोड़ के डिजाइन पर नहीं। इसलिए इन बातों में न आएं। जोड़ चाहे किसी भी डिजाइन या धातु का बना हो, सफल प्रत्यारोपण के बाद 20 से 30 वर्षों तक बेहतर काम कर सकता है। किन-किन जोड़ों का प्रत्यारोपण हो सकता है?जोड़ प्रत्यारोपण सिर्फ घुटने व कूल्हों का ही होता है क्योंकि अब तक इनके परिणाम ही बेहतर पाए गए हैं। इनमें भी सबसे ज्यादा मामले घुटनों के आते हैं। इसकी नौबत क्यों और कब आती है?प्रमुख वजह शारीरिक गतिविधियों का अभाव व खरा
खाना बनाते समय दो झुग्गियाें में आग

खाना बनाते समय दो झुग्गियाें में आग

Punjab
गांव नसीराबाद में खाना बनाते समय आग लगने से दो झुग्गियां जल गईं। इसमें उनका 25000 रुपए के करीब नुकसान हुआ है। गांव नसीराबाद के झुग्गी-झोंपड़ी में रहने वाली ललिता ने बताया कि वह रात को खाना बना रही थी। इस दौरान अचानक तेज हवा आने से उनके झोपड़ी में आग लग गई जिस कारण उनका सारा सामान जलकर राख हो गया। उन्होंने पंजाब सरकार से मांग की है कि उनकी आर्थिक तौर पर मदद की जाए। आग लगने से नुकसान के बारे में जानकारी देते सदस्य। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Phagwara News - fire in two slums while cooking Dainik Bhaskar
लुधियाना स्टेशन पर कोच में पानी भरते समय बर्बादी रोकेगा रेलवे

लुधियाना स्टेशन पर कोच में पानी भरते समय बर्बादी रोकेगा रेलवे

Punjabi Politics
लुधियाना.भूजल बचाने के लिए रेलवे अच्छी पहल करने जा रहा है। लुधियाना रेलवे स्टेशन पर एनरूट क्विक वाटर रीफिलिंग सिस्टम लागू होगा जिससे पानी की बर्बादी रुकेगी। तमिलनाडु का दौरा कर अफसरों ने हेडक्वार्टर को रिपोर्ट और प्रपोजल भेजा है। नाॅर्दर्न जोन में लुधियाना पहला स्टेशन होगा जहां एनरूट क्विक वाटर रीफिलिंग सिस्टम लागू किया जाएगा।अंडरग्राउंड टंकियोंं में पानी की मोटरें एसएमएस से ऑन-आफ होंगी। पानी भरने के बाद ऑटोकट लगेगा। ट्रेन के एक कोच में करीब 1800 लीटर पानी भरा जाता है। इसे भरने में 20 से 25 मिनट लगते हैं। नए सिस्टम में स्टेशन पर अंडरग्राउंड पाइपें डाली जाएंगी। अलग टंकियां बनेंगी। पानी की टंकियां अलग होने से पैसेंजरों और रेलवे की काॅलोनियों में जाने वाली पानी की मात्रा काफी बढ़ जाएगी। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
रात के समय देवधर से ट्रक चोरी, केस दर्ज

रात के समय देवधर से ट्रक चोरी, केस दर्ज

Haryana
यमुनानगर| गांव देवधर से रात के समय एक ट्रक चोरी हो गया। ट्रक मालिक प्रमोद कुमार ने बताया कि उसने ट्रक लिया हुआ है। रात करीब 12 बजे ट्रक को अपने मकान के पास खड़ा किया था। रात करीब एक बजे ट्रक चोरी हो गया। उन्होंने पता चला है कि रात को कार में कुछ लोग आए थे और वे ही ट्रक लेकर गए हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
यमुना नहर में नहाने पर लगी थी धारा-144, नहाते समय एक डूब था, जो बचे उन पर केस

यमुना नहर में नहाने पर लगी थी धारा-144, नहाते समय एक डूब था, जो बचे उन पर केस

Haryana
यमुना नहर में नहाने और अवैध खनन को देखते हुए धारा-144 लगाई गई है। इसके उल्लंघन का मामला सामने आया है। सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने इसको लेकर केस भी दर्ज कराया है। आरोप है कि नौ जून को कुछ युवक नहर में नहा रहे थे। उन्होंने धारा-144 का उल्लंघन किया। इस पर पुलिस ने एसडीओ जसविंद्र सिंह की शिकायत पर जगाधरी निवासी सोनू, अंकित और मोहित पर धारा-188 में केस दर्ज किया है। वे दादुपुर हेड पर नहाने गए थे। हालांकि उनका साथ सूर्य नहर में डूब गया था। उसकी मौत हो गई थी। बताया जा रहा है कि लगातार हो रहे इस तरह के हादसों को देखते हुए सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने यह सख्त कदम उठाया है। हालांकि जिस धारा में केस दर्ज हुआ है वह जमानती है। इसमें एक माह तक की सजा और 200 रुपए के जुर्माने का प्रावधान है। इस तरह की पहली एफआईआर: बुड़िया थाना प्रभारी ने बताया कि तरह की उनके कार्यकाल में यह पहली एफ