News That Matters

Tag: सामान्य

सामान्य वार्ड से जीत बने थे डिप्टी मेयर

सामान्य वार्ड से जीत बने थे डिप्टी मेयर

Haryana
सामान्य वार्ड से जीत बने थे डिप्टी मेयर 1986-87 में राजनीति में आए रामपाल ने 1994 में यमुनानगर नगर परिषद का पहला चुनाव लड़कर जीता था। महिला के लिए वार्ड रिजर्व होने के कारण 2000 में उनकी प|ी शकुंतला पार्षद बनीं। 2005 में रामपाल फिर पार्षद बने। तब उन्हें नप में वाइस चेयरमैन बनने का मौका मिला। 2010 में नगर परिषद भंग होने के बाद यमुनानगर को नगर निगम का दर्जा मिल गया। 2013 में हुए निगम चुनाव में रामपाल ओपन वार्ड से पार्षद बने थे। इस बार वे सामान्य सीट से चुनाव जीते। इस जीत से उन्हें निगम में डिप्टी मेयर की कुर्सी मिली। हालांकि अपनी ही पार्टी एक महिला पार्षद को अश्लील मैसेज भेजने के आरोपों की वजह से उनकी कुर्सी चली गई। 2018 में हुए निगम चुनाव में रामपाल को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा। 2830 वोट लेकर वे तीसरे स्थान पर रहे थे। Download Dainik Bhaskar App to read Lates
मानसून सामान्य रहने की उम्मीद में सेंसेक्स-निफ्टी नई ऊंचाई पर पहुंचे

मानसून सामान्य रहने की उम्मीद में सेंसेक्स-निफ्टी नई ऊंचाई पर पहुंचे

Delhi
कंपनियों के तिमाही नतीजों की अच्छी शुरुआत और मानसून की चिंता कम होने से देश के बाजारों में मंगलवार को चौथे दिन रही। सेंसेक्स 369.80 अंक (0.95%) बढ़कर 39,275.64 की रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुआ। कारोबार में इसने 39,364.34 की नई ऊंचाई को छुआ। निफ्टी में 96.80 अंक (0.83%) की बढ़त रही। यह 11,787.15 की रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान इसने 11,810.95 की नई ऊंचाई छुई। सेंसेक्स 39,364.34 और निफ्टी 11,810.95 की ऊंचाई पर पहुंचा विदेशी निवेश, तिमाही नतीजों का भी सकारात्मक असर मानसून : निजी एजेंसी स्काईमेट ने इस साल मानसून सामान्य से कम का अनुमान जताया था। लेकिन मौसम विभाग ने इसके सामान्य रहने का अनुमान व्यक्त किया है। विदेशी निवेश : एफआईआई इस साल 15 अप्रैल तक बाजार में 65,000 करोड़ रुपए लगा चुके हैं। वैश्विक संकेत : चीन ने पिछले हफ्ते निर्यात और बैंकिंग के मजबूत आंकड़े जारी कि
इस साल सामान्य के करीब रहेगा मानसून, 96% हाे सकती है बारिश

इस साल सामान्य के करीब रहेगा मानसून, 96% हाे सकती है बारिश

Delhi
नई दिल्ली.देश में इस साल मानसून सामान्य रहने का अनुमान है। मानसून के चार महीने के दौरान दीर्घावधि औसत की 96 प्रतिशत बारिश होगी। मौसम विभाग ने सोमवार को इस साल के दक्षिण-पश्चिम मानसून का पहला पूर्वानुमान जारी किया। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम. राजीवन नायर और भारतीय मौसम विभाग के महानिदेशक केजे रमेश ने प्रेस काॅन्फ्रेंस में इस साल मानसून का पूर्वानुमान जारी किया।ये भी पढ़ेंइस साल मानसून सामान्य से कम रहने का अनुमान, 93% बारिश की संभावनाउन्हाेंने बताया कि इस साल मानसून के दौरान जून से सितंबर तक वर्षा लगभग सामान्य रहने का अनुमान है। दीर्घावधि औसत का 96 प्रतिशत बारिश होगी। मानसून के चार माह में कुल 89 सेमी बारिश हाेने का अनुमान है। नायर ने कहा, ‘दक्षिण पश्चिम मानसून अभी तक सामान्य है। एेसे में मानसून के सामान्य रहने की संभावना है।’ मानसून का दूसरा पूर्वानुमान मई के अंत
इस साल मानसून के सामान्य रहने के आसार, 96% बारिश होने की संभावना: मौसम विभाग

इस साल मानसून के सामान्य रहने के आसार, 96% बारिश होने की संभावना: मौसम विभाग

India
नई दिल्ली. देश में इस साल मानसून सामान्य रहने का अनुमान है और मानसून के चार महीने के दौरान दीर्घावधि औसत की 96 प्रतिशत बारिश होगी। मौसम विभाग ने सोमवार को इस साल के दक्षिण-पश्चिम मानसून का पहला पूर्वानुमान जारी किया।पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव डॉ. एम. राजीवन और भारतीय मौसम विभाग के महानिदेशक डॉ. के. जे. रमेश ने बताया कि इस साल मानसून के दौरान जून से सितंबर तक वर्षा लगभग सामान्य रहने का अनुमान है। दीर्घावधि औसत का 96 प्रतिशत बारिश होने का पूर्वानुमान है। वर्ष 1951 से 2000 तक मानसून के दौरान देश में औसत बारिश 890 मिलीमीटर है।खरीफ की फसल के लिए लाभकारी होगा मानसूनउन्होंने बताया कि इस साल मानसून के दौरान अलनीनो की स्थितियां कमजोर रहने और मानसून के अंतिम दो महीनों में इसकी तीव्रता कम रहने के आसार हैं। इस बार मानसूनी बारिश का वितरण भी अच्छा रहेगा जो आगामी खरीफ मौसम की फसल

भारत में इस साल सामान्‍य रहेगा मानसून: मौसम विभाग

India
भारत में इस साल मानसून सामान्‍य रहेगा। हालांकि मौसम का अनुमान लगाने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट ने इस माह के शुरुआत में मानसून के सामान्य से नीचे रहने का अनुमान लगाया था। Jagran Hindi News - news:national
सामान्य बीमारियों के लिए जान लें कारगर घरेलू उपाय

सामान्य बीमारियों के लिए जान लें कारगर घरेलू उपाय

Health
खांसी, जुकाम व बुखार जैसी परेशानियां आम हैं। कुछ घरेलू उपाय इन बीमारियों के इलाज में मददगार हो सकते हैं। आइये जानते हैं इनके बारे में। जुकाम : त्रिकूट चूर्ण (सौंठ, छोटी पीपल, काली मिर्च) गुड़ के साथ मिलाकर गोलियां बनाएं। दिन में 3-4 बार इनका धीरे-धीरे रस लेने से जुकाम में आराम मिलेगा। मुंह के छाले : रात में सोते समय 1 चम्मच देसी घी या फिर 2 चुटकी हल्दी 1 गिलास पानी में उबालकर गरारे करने से छालों मेें आराम मिलता है। खांसी : काली मिर्च, दालचीनी, इलायची व लौंग को पीसकर तुलसी व अदरक के रस में मिलाएं व शहद के साथ दिन में ३ बार लें। एसिडिटी: चुटकीभर काला नमक व अदरक के छोटे टुकड़े को मुंह में डालकर धीरे-धीरे रस लेने से एसिडिटी ठीक होती है। सामान्य बुखार : आधा ग्राम मीठा सोडा व 1 चम्मच शहद, 1 कप गुनगुने दूध में मिलाकर पीने से सामान्य बुखार उतर जाता है। गले की खराबी : मुलैठी व काली मिर्च को भूनकर ग
मध्यभारत में सामान्य से 5 डिग्री तक ज्यादा गर्मी, देश में 7% कम बारिश होगी

मध्यभारत में सामान्य से 5 डिग्री तक ज्यादा गर्मी, देश में 7% कम बारिश होगी

Delhi
नई दिल्ली/मुंबई.मध्यभारत में इस बार गर्मी ज्यादा पड़ने की आशंका है। दूसरी तरफ मॉनसून में बारिश भी सामान्य से कम रह सकती है। मौसम का अनुमान जारी करने वाली प्राइवेट एजेंसी स्काईमेट ने कहा है कि जून से सितंबर तक चार माह की बारिश सामान्य से 7% तक कम रह सकती है। गर्मी भी ज्यादा पड़ेगी।ये भी पढ़ेंअप्रैल में ही झुलसाएगी गर्मी, रांची में 10 साल के अधिकतम पारा का रिकॉर्ड टूटने के आसारस्काईमेट के वाइस-प्रेसिडेंट महेश पालावत ने बताया कि अलनीनो की वजह से न सिर्फ मॉनसून औसत से कम रहेगा, बल्कि मध्य व दक्षिण भारत के हिस्से में सामान्य से अधिक गर्मी पड़ेगी। मध्यप्रदेश, विदर्भ व दक्षिणी राज्यों के कुछ हिस्सों में तापमान अभी से 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक है, जो यहां के सामान्य तापमान से 4 से 5 डिग्री तक ज्यादा है। मई से जून के पहले हफ्ते तक भी इन क्षेत्रों में 4 से 5 डिग्री तक अधिक गर्मी पड़े
पारा सामान्य से 5-6 डिग्री ऊपर, आज चल सकती है लू

पारा सामान्य से 5-6 डिग्री ऊपर, आज चल सकती है लू

Delhi
दिल्ली-एनसीआर में गुरुवार को पारा तेजी के साथ चढ़ा। अधिकतम तापमान सफदरजंग में सामान्य से 5 डिग्री ऊपर 38.2 डिग्री दर्ज किया। पालम केंद्र पर सामान्य से 6 डिग्री ऊपर 40.4 डिग्री दिन का तापमान रहा। हवा में नमी की मात्रा 26-83 फीसदी के बीच रही जिसके कारण चुभने वाली गर्मी महसूस हुई और कहीं-कहीं लू का अहसास भी हुआ। न्यूनतम तापमान दिल्ली में 18.7 डिग्री दर्ज किया गया जबकि सबसे ऊपर स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स केंद्र पर 22.5 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को अधिकतम तापमान सफदरजंग केंद्र पर 40 डिग्री और पालम में 41 डिग्री दर्ज हो सकता है। हवा में नमी कम रहने के कारण गर्मी से शरीर झुलसने और लू के हालात सामने आएंगे। शाम को दिल्ली में धूलभरी आंधी 30-40 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चलेगी। शनिवार को आंधी 40-50 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चलेगी। दो दिन 30-50 किमी प्रतिघंटा
दिल्ली का पारा सामान्य से 3 डिग्री ऊपर, अभी और चढ़ेगा

दिल्ली का पारा सामान्य से 3 डिग्री ऊपर, अभी और चढ़ेगा

Delhi
नई दिल्ली| दिल्ली-एनसीआर में दिन की गर्मी लगातार बढ़ रही है। अधिकतम पारा बुधवार को सामान्य से 3 डिग्री ऊपर 36.8 डिग्री दर्ज किया गया जो अगले दो दिन में 39 डिग्री तक पहुंचने की भविष्यवाणी की गई है। न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री नीचे 17.6 डिग्री दर्ज किया गया। पालम केंद्र पर अधिकतम पारा 38.2 डिग्री तक जा पहुंचा। मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को अधिकतम पारा 38 डिग्री व शुक्रवार को 39 डिग्री तक पहुंचेगा। शुक्रवार को मौसम बिगड़ेगा जिसमें बादलों के आवाजाही बनेगी और धूलभरी आंधी चलेगी। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar

इस वर्ष ‘सामान्य’ से कम रहेगा मानसून- स्काईमेट

India
स्काईमेट ने बताया कि इस साल मानसून की बारिश सामान्य से कम हो सकती है।अल नीनो को सामान्य बारिश से नीचे संभावित बारिश के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है। Jagran Hindi News - news:national