News That Matters

Tag: साल

Facebook ने दो साल में हटाए 2.60 करोड़ हिंसक पोस्ट, ज्यादातर IS और अलकायदा से थे जुड़े

Indian Technology
फेसबुक (Facebook) ने अपने प्लेटफॉर्म से आतंकी संगठनों की 2.60 करोड़ हिंसा फैलाने वाली पोस्ट्स को डिलीट किया है। Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
10 साल में जून की सबसे ठंडी रात, न्यूनतम पारा 7 डिग्री गिर कर 20.6 डिग्री पर पहुंचा

10 साल में जून की सबसे ठंडी रात, न्यूनतम पारा 7 डिग्री गिर कर 20.6 डिग्री पर पहुंचा

Delhi
नई दिल्ली.दिल्ली-एनसीआर जम्मू-कश्मीर के वेस्टर्न डिस्टरबेंस और अरब सागर से नमी लेकर आने वाली दक्षिण पश्चिम हवा के कारण सोमवार रात को अच्छी बारिश हुई। दिल्ली में सफदरजंग में 10.6 मिमी और रिज केंद्र पर सबसे अधिक 26.8 मिमी तक बारिश हुई। इसका असर ये रहा कि जून के महीने में पिछले 10 साल की दूसरी सबसे ठंडी रात का रिकार्ड बन गया। न्यूनतम तापमान सामान्य से 7 डिग्री नीचे 20.6 डिग्री दर्ज किया गया जो 2009 से 2019 के बीच जून के महीने में 14 जून, 2015 के 20.6 डिग्री को छोड़ दें तो इतना नीचे जून की रात का पारा नहीं गिरा है। जबकि जून के महीने बारिश साल के मुकाबले 2013 में 19 जून को 58 मिमी हुई थी।दिल्ली के रिज केंद्र पर बारिश सबसे अधिक 20.8 मिमी हुई। न्यूनतम तापमान पर भी इसका असर दिखा जहां सबसे नीचे पारा 19 डिग्री दर्ज किया गया। भारतीय मौसम विभाग के मौसम वैज्ञानिक डॉ. कुलदीप श्रीवास्त
मां के साथ सो रही 4 साल की बच्ची को उठाने की कोशिश, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

मां के साथ सो रही 4 साल की बच्ची को उठाने की कोशिश, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

Punjabi Politics
लुधियाना. लुधियाना में 4 साल की एक बच्ची को अगवा करने की कोशिश का मामला सामने आया है। पता चला है कि ऋषि नगर में एक बदमाश घर में घुसकर अपनी मां के साथ सो रही बच्ची को उठाकर भागने की कोशिश में था, लेकिन इसी बीच महिला की आंख खुल गई। उसने शोर मचाया तो लोगों आरोपी को धर-दबोचा। सूचना मिलते ही थाना पीएयू पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने आसपास से सीसीटीवी कैमरे की फुटेज कब्जे में ले ली और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।घटना ऋषि नगर के इलाके की है। शिकायतकर्ता कंचन के मुताबिक वह अपनी चार वर्षीय बेटी सोहाना और सास के साथ घर के बाहर सो रही थी। इसी दौरान आरोपित एक रेहड़ा लेकर आया और उसने सो रही बच्ची सोहाना को उठाकर रेहड़े में रखने की कोशिश की। इसी दौरान कंचन की नींद खुल गई और उसने शोर मचाना शुरु कर दिया। कंचन का शोर सुनते ही आरोपित जसपाल सिंह बच्ची को छोड़ रेहड़ा लेकर भाग गया। थाना पीएयू प
133 साल पुराने मोहनपुरा ओवरब्रिज पर अब नो एंट्री, छह माह में 9 करोड़ से नया बनेगा

133 साल पुराने मोहनपुरा ओवरब्रिज पर अब नो एंट्री, छह माह में 9 करोड़ से नया बनेगा

Rajasthan
जोधपुर. शहर के 133 साल पुराने मोहनपुरा ओवरब्रिज पर अब नौ एंट्री रहेगी। मंगलवार से यहां निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। पुल काफी जर्जर हो गया था और इससे कहीं बड़ा हादसा न हो जाए इसलिए प्रशासन और रेलवे नौ करोड़ रुपए खर्च कर इसे नया बना रहा है। काम छह महीने चलेगा और तब तक यहां पैदल या वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है। रास्ता पूरी तरह बंद कर दिया गया।पुल के नए निर्माण को लेकर सुबह रेलवे की ओर से उसे तोड़ने का काम शुरू कर दिया गया। वहीं ट्रैफिक पुलिस की ओर से पुल के दोनों ओर बैरियर लगा रास्ता पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। पुल के दोनों ओर दीवार का निर्माण किया जाएगा। इसके बाद नए लोहे के गडर लगाए जाएंगे। इससे दो दिन तक दो-दो घंटे ट्रेनें भी प्रभावित रहेंगी। बता दें कि मोहनपुरा ब्रिज शहर के दो हिस्सों को जोड़ता था। पुराना होने की वजह से वो जर्जर होने लगा था, ऐसे में कभी भी बड़
6 साल की मासूम से दरिंदगी, इलाज में लापरवाही के आरोप पर नाराज लोगों ने डॉक्टरों को पीटा

6 साल की मासूम से दरिंदगी, इलाज में लापरवाही के आरोप पर नाराज लोगों ने डॉक्टरों को पीटा

Delhi
नई दिल्ली. कोलकाता के अस्पताल के बाद अब दिल्ली के महर्षि वाल्मीकि अस्पताल में डॉक्टरों से मारपीट का मामला सामने आया है। दुष्कर्म का शिकार हुई 6 साल की मासूम बच्ची के इलाज में लापरवाही के आरोप पर नाराज लोगों ने डॉक्टरों व अस्पताल के गार्डोंको जमकर पीटा। घटना से नाराज डॉक्टरों ने बुधवार को अस्पताल में हड़ताल का एलान कर दिया।बवाना इलाके में 6 साल की बच्ची के साथ 45 साल के व्यक्ति ने दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस बच्ची को मेडिकल के लिए महर्षि वाल्मीकि अस्पताल में लाई। यहां से उसे आंबेडकर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। लेकिन, उसके साथ अस्पताल से कोई भी अटेंडेंट नहीं गया। मामला सामने आने पर 200 लोगों ने अस्पताल पहुंचकर नारेबाजी की। जब गार्डों ने रोकने की कोशिश की तो उनकी बुरी तरह से पिटाई कर दी। Download Dainik Bhaskar App to read
15 साल के लड़के की पिटाई क्या पुलिस की बर्बरता का सबूत नहीं है : दिल्ली हाई कोर्ट

15 साल के लड़के की पिटाई क्या पुलिस की बर्बरता का सबूत नहीं है : दिल्ली हाई कोर्ट

Delhi
नई दिल्ली .मुखर्जी नगर में ग्रामीण टैक्सी सेवा के ड्राइवर सरबजीत िसंह अाैर उसके नाबालिग बेटे की पिटाई के मामले में दिल्ली हाईकाेर्ट ने पुलिस काे फटकार लगाई है। हाईकाेर्ट ने कहा कि यह घटना पुलिस की बर्बरता का सबूत है। हाईकाेर्ट के जस्टिस जयंत नाथ अाैर नज्मी वजीरी की पीठ ने बुधवार काे इस मामले में दाखिल जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए सवाल किया, 15 साल के लड़के की बर्बर पिटाई काे अाप कैसे सही ठहरा सकते हैं? क्या यह पुलिस की बर्बरता का सबूत नहीं है? क्या अापकाे इससे भी ज्यादा सबूत चाहिए?’पीठ ने कहा कि काेई भी पुलिस एेसा काम कैसे कर सकती है? इससे अाम नागरिकाें में यह डर भर जाएगा कि पुलिस इसी तरह से काम करती है। याचिका में पूरे मामले की सीबीअाई जांच कराने का अादेश देने की मांग हाईकाेर्ट से की गई है। हाईकाेर्ट ने इस बारे में दिल्ली की केंद्र अाैर दिल्ली की अाम अादमी पार्टी सर
प्रमुख सचिव ने दो साल पहले जिन्हें ‘इंटेलीजेंट इंजीनियर’ बताया था, अब उन्हे शहर पेयजल की बड़ी जिम्मेदारी

प्रमुख सचिव ने दो साल पहले जिन्हें ‘इंटेलीजेंट इंजीनियर’ बताया था, अब उन्हे शहर पेयजल की बड़ी जिम्मेदारी

Rajasthan
जयपुर. जलदाय विभाग में सोमवार देर रात हुए तबादलों में दो अधीक्षण अभियंता सहित नौ इंजीनियरों को इधर-उधर किया है। भाजपा सरकार की पूर्व जलदाय मंत्री किरण माहेश्वरी के ओएसडी के तौर पर काम संभाल चुके सतीश जैन को सिटी साउथ सर्किल में अधीक्षण अभियंता लगाया है। वहीं यहां लगे देवेंद्र कोठ्या री को वापस मुख्यालय भेज दिया।सिटी सर्किल के नॉर्थ डिविजन से एक्सईएन रामरतन डोई को प्रोजेक्ट डिविजन साउथ प्रथम में लगाया है। इस प्रोजेक्ट में करीब 200 करोड़ के काम चल रहे है। वहीं गांधीनगर में शराब पार्टी के मामले लापरवाही बरतने के आरोपों के बाद हटाए एक्सईएन केशव श्रीवास्तव को दुबारा फील्ड में पोस्टिंग देते हुए सिटी डिविजन साउथ-चतुर्थ में पोस्टिंग दी है। इन्हे पूर्व प्रमुख सचिव रजत मिश्र ने एपीओ किया था।निवाई प्रोजेक्ट का काम संभाल रहे एक्सईएन संजय अग्रवाल को भी शहर में काम देते हुए प्रोजेक्ट

Birthday Special: प्रधानमंत्री बनने के बाद हर साल नरेंद्र मोदी कैसे मनाते हैं अपना जन्मदिन

Indian Education
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर आज देश के अलग-अलग हिस्सों में अलग-अलग कार्यक्रम हो रहे हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि प्रधानमंत्री खुद इस मौके पर क्या कर रहे हैं? Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala
अगले साल अंडर-17 वर्ल्डकप भारत में, इसलिए हर कस्बे-शहर में गर्ल्स लीग कराएगी सरकार

अगले साल अंडर-17 वर्ल्डकप भारत में, इसलिए हर कस्बे-शहर में गर्ल्स लीग कराएगी सरकार

Delhi
नई दिल्ली.भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) देशभर में पहली बार लड़कियों को फुटबॉल खिलाने का अभियान शुरू कर रहा है। अब कस्बों और शहरों में बेटियां फुटबॉल खेलेंगी। प्राधिकरण यह काम अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ के साथ मिलकर करेगा। यह सारी कवायद अगले साल नवंबर में देश में ही होने वाले लड़कियों के अंडर-17 फुटबॉल वर्ल्ड कप को देखते हुए की जा रही है। दरअसल, साई खेलाे इंडिया गर्ल्स लीग शुरू कर रहा है। इसमें बैडमिंटन, टेबल टेनिस, बाॅक्सिंग समेत 10 से 12 खेलों को शामिल किया गया है। यानी, सिर्फ लड़कियों के लिए इन खेलों की लीग शुरू की जाएंगी।लेकिन सबसे पहले फुटबाॅल की लीग शुरू होगी। इसमें अंडर-17 से शुरुआत होगी। इसके बाद अंडर-13, अंडर-15 को भी शामिल किया जाएगा। एक लीग में 16 टीमें खेलेंगी। हर जगह साल में करीब 30 से 40 मैच कराने का लक्ष्य रखा गया है। हर शहर में कम से कम 16 टीमें तैयार की जाएंगी
अगले साल अंडर-17 वर्ल्डकप भारत में, इसलिए हर कस्बे-शहर में गर्ल्स लीग कराएगी सरकार

अगले साल अंडर-17 वर्ल्डकप भारत में, इसलिए हर कस्बे-शहर में गर्ल्स लीग कराएगी सरकार

Delhi
नई दिल्ली.भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) देशभर में पहली बार लड़कियों को फुटबॉल खिलाने का अभियान शुरू कर रहा है। अब कस्बों और शहरों में बेटियां फुटबॉल खेलेंगी। प्राधिकरण यह काम अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ के साथ मिलकर करेगा। यह सारी कवायद अगले साल नवंबर में देश में ही होने वाले लड़कियों के अंडर-17 फुटबॉल वर्ल्ड कप को देखते हुए की जा रही है। दरअसल, साई खेलाे इंडिया गर्ल्स लीग शुरू कर रहा है। इसमें बैडमिंटन, टेबल टेनिस, बाॅक्सिंग समेत 10 से 12 खेलों को शामिल किया गया है। यानी, सिर्फ लड़कियों के लिए इन खेलों की लीग शुरू की जाएंगी।लेकिन सबसे पहले फुटबाॅल की लीग शुरू होगी। इसमें अंडर-17 से शुरुआत होगी। इसके बाद अंडर-13, अंडर-15 को भी शामिल किया जाएगा। एक लीग में 16 टीमें खेलेंगी। हर जगह साल में करीब 30 से 40 मैच कराने का लक्ष्य रखा गया है। हर शहर में कम से कम 16 टीमें तैयार की जाएंगी