News That Matters

Tag: सावधान

सावधान! आपके स्मार्टफोन पर नया मैलवेयर कर रहा है अटैक

Indian Technology
हाल ही में एक ऐसे ट्रोजन मैलवेयर के बारे में पता चला है जो ऐंड्रॉयड डिवाइसेस पर अटैक कर रहा है। बता दें कि ट्रोजन एक खास तरह का मैलवेयर या प्रोग्राम होता है, जो दिखने में सही लगता है, लेकिन जब इसे चलाया जाता है तो यह पूरे सिस्टम (कंप्यूटर/फोन) को खराब कर देता है। Tech News in Hindi:Latest Tech Hindi News,PC and Gadgets Launch,Reviews News,& Mobile Phones
सावधान: ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के नाम की कॉल कर सकती है आपको कंगाल, कॉल करके बोलेंगे- हेलो में केबीसी से बोल रहा हूं और फिर करेंगे आपसे ठगी

सावधान: ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के नाम की कॉल कर सकती है आपको कंगाल, कॉल करके बोलेंगे- हेलो में केबीसी से बोल रहा हूं और फिर करेंगे आपसे ठगी

Punjab
चंडीगढ़।कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर जालसाजों ने पंजाब में 150 से अधिक लोगों को लखपति बनाने का सपना दिखाकर ठग लिया। इतने केस तो पुलिस की डायरी में दर्ज हो चुके हैं लेकिन बहुत से लोग ने तो इसकी शिकायत भी नहीं करते। और सभी से ठगी करने का तरीके एक जैसा ही है। आपके मोबाइल पर कॉल आएगी। कहा जाएगा केबीसी से बोल रहा हूं। अमिताभ बच्चन और मोदी सरकार ने 5000 में से 25 मोबाइल नंबर सेलेक्ट किए थे, जिनमें आपका मोबाइल नंबर भी है। आपकी 25 लाख रुपए की लाॅटरी निकली है। इनाम की राशि आप किसी भी बैंक की शाखा में जाकर प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन रकम पाने के लिए आपको टैक्स अदा करना होगा।आपको प्रधानमंत्री योजना का कहकर दिया जाता है लालचकितना टैक्स देना होगा पूछने पर बताया जाता है कि 24350 रुपए एक्सिस बैंक की मुंबई शाखा के एक अकाउंट में जमा कराने होंगे। अगर आपने लालच में उनके अकाउंट में 24350 रुपए
अगर आप भी किचन में भी यूज करती हैं ये चीजें, तो हो जाएं सावधान

अगर आप भी किचन में भी यूज करती हैं ये चीजें, तो हो जाएं सावधान

Health
आधुनिक तकनीक ने हमारी जीवनशैली को बेहद प्रभावित किया है। दादी-नानी का 'रसोईघर' अब 'मॉडन किचन' में बदल गया है। आधुनिकता और नई तकनीक किचन में भी आ गई है।नए इलेक्ट्रिक उपकरण, हाईटेक गैजेट्स, किचन एक्सेसरी, नॉनस्टिकी बर्तन, प्लास्टिक कंटेनर्स और जाने क्या-क्या हमारे किचन का हिस्सा बन चुके हैं। लेकिन बड़ा सवाल यह है कि इनसे हमारी सेहत कितनी सुरक्षित है? आइए जानते हैं किचन में यूज की जानें वाली कुछ एेसी चीजों के बारे में जो हमारी सेहत के लिए बेहद नुकसानदायक हैं। एलुमीनियम फॉइल्सएलुमीनियम फॉइल आजकल हर किचन का जरूरी हिस्सा बन चुकी है। खाने को ताजा और देर तक गर्म रखने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन ये फॉइल जितने सुविधाजनक हैं, उतने ही नुकसानदायी भी हैं। इटली में हुए एक शोध में यह सामने आया है कि एलुमीनियम फॉइल से करीब 2-6 मिलीग्राम तक एलुमीनियम कंटेट खाने में पहुंच जाता है, जो प्राकृतिक र
बादल ने कांग्रेस पर गुरुधाम कब्जाने की कोशिश का आरोप लगा दी अकालियों को सावधान रहने की नसीहत

बादल ने कांग्रेस पर गुरुधाम कब्जाने की कोशिश का आरोप लगा दी अकालियों को सावधान रहने की नसीहत

Punjabi Politics
पटियाला। कांग्रेस अब गुरुधामों पर कब्जे करना चाहती है। इस बारे में कैप्टन अमरिंदर भी बयान दे चुके हैं। जिस तरह से जिला परिषद चुनाव में कांग्रेस ने धक्केशाही की, गुुरद्वारा कमेटी के चुनाव में भी वह यही नीति अपना सकती है। यह आशंका शिरोमणि अकाली दल के सरपरस्त व पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल ने यहां आयोजित रैली में जताई।अकाली दल की ओर से आयोजित इस जब्र विरोधी रैली में उन्होंने कहा कि अगर चुनाव में धक्केशाही करने की आदत कांग्रेस को पड़ गई तो अगले विधानसभा और लोकसभा चुनाव में भी वह एेसी कोशिश कर सकती है। कांग्रेस गुरुद्वारों में अपने नुमाइंदे और महंत बिठाना चाहती है। किसी भी बीमारी को अगर शुरू में पकड़ लो तो उसका इलाज हो जाता है, नहीं तो वह जानलेवा साबित हो सकती है। पूर्व सीएम ने यह उदाहरण देते हुए रैली में मौजूद पार्टी वर्करों को अपील की कि वह कांग्रेस की इन कोशिशों को सफल न ह

VIDEO: अफवाहों से रहे सावधान, MDH मसालों के मालिक धर्मपाल जिंदा हैं; निधन की खबर झूठी

India
एमडीएच के मालिक चुन्नी लाल के निधन की खबर केवल अफवाह है। वे जिंदा हैं, उनके निधन की खबर झूठी है। Jagran Hindi News - news:national

आक्रामक गोवा से सावधान रहना चाहेगी चेन्नइयन

Indian Sports
चेन्नई। इंडियन सुपरलीग (आईएसएल) के 5वें सीजन में शनिवार को एफसी गोवा का सामना मौजूदा विजेता चेन्नइयन एफसी से से होगा। जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में होने वाले इस मैच में गोवा की नजरें चेन्नइयन से पिछले सीजन में प्लेऑफ में मिली हार का बदला लेने पर खेल-संसार
स्क्रब टाइफस: बिना खुजली वाले चकत्तों से रहें सावधान

स्क्रब टाइफस: बिना खुजली वाले चकत्तों से रहें सावधान

Health
टाइफस एक प्रकार का बैक्टीरियल इंफेक्शन है, जो पिस्सुओं (कीट) के काटने से होता है। इसकी शुरुआत तेज बुखार, ठंड, बेहोशी छाना, शरीर, तेज सिरदर्द, उल्टी आदि डेंगू-चिकनगुनिया जैसे लक्षण होना है, लेकिन स्क्रब टाइफस में बिना खुजली वाले गोल चकत्ते शरीर पर दिखाई देते हैं। ये पिस्सुओं के काटने से होते हैं। ऐसे लक्षण डेंगू-चिकनगुनिया, मलेरिया में नहीं दिखते हैं। इन्हें देखकर भी पहचान हो सकती है। इसमें प्लेट्स के साथ ब्लड काउंट भी तेजी से घटता है। स्क्रब टाइफस में ये जांचें जरुरी स्क्रब टाइफस होने पर कुछ जांचें डॉक्टर्स करवाते हैं। इसमें प्लेटलेट्स काउंट, सीबीसी, लिवर फंक्शन और किडन फंक्शन टेस्ट करवाई जाती हैं। बीमारी की गंभीरता के आधार पर अन्य जांचें जैसे एलाइजा व इम्यूटी से जुड़े टेस्ट भी करवाते हैं। इसमें मुख्य रूप से 7-10 दिन तक एंटीबायोटिक्स दी जाती हैं। इलाज में देरी से दूसरे अंगों पर असर इलाज सम

टॉयलेट सीट से भी अधिक घातक हैं यहां पाए जाने वाले बैक्टीरिया, रहें सावधान

India
खाना खाते समय आप हाथ धुलना नहीं भूलते हैं तो अच्छी बात है लेकिन अगर खाते हुए मोबाइल भी इस्तेमाल करते हैं तो आपके हाथ धुलने का कोई फायदा नहीं हुआ। Jagran Hindi News - news:national

पीने के पानी से कहीं आपको पड़ न जाएं लेने के देने, इसलिए रहें सावधान!

India
गंदा पानी पीने से बैक्टीरियल इंफेक्शन हो सकता है। दूषित पानी से नहाने से ही कई बीमारियां हो जाती हैं। जैसे त्वचा रोग, खुजली, दाद आदि। Jagran Hindi News - news:national
सावधान ! कोयला न पड़ जाए सांसों पर भारी

सावधान ! कोयला न पड़ जाए सांसों पर भारी

Health
एक अध्ययन में पाया गया है कि भारत जैसे कम आय वाले देशों में खाना पकाने के लिए लकड़ियां या कोयला चलाने के चलन से सांस के रोगों के कारण अस्पताल में भर्ती होने या जान चले जाने का जोखिम बढ़ सकता है।... Live Hindustan Rss feed