News That Matters

Tag: सेवा

टोल टैक्स पर मंत्री गडकरी बाेले- अगर अच्छी सेवा चाहिए ताे अापकाे पैसे ताे देने हाेंगे

टोल टैक्स पर मंत्री गडकरी बाेले- अगर अच्छी सेवा चाहिए ताे अापकाे पैसे ताे देने हाेंगे

Delhi
एजेंसी | नई दिल्ली. केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि टाेल टैक्स खत्म नहीं हाेगा। गडकरी ने मंगलवार काे लाेकसभा में कहा, ‘टाेल जिंदगीभर बंद नहीं नहीं हाे सकता। कम ज्यादा हाे सकता है। टाेल का जन्मदाता मैं हूं।’ उन्हाेंने बाजार का नियम समझाते हुए कहा कि अगर अापकाे अच्छी सेवा चाहिए, ताे इसके लिए पैसे का भुगतान करना हाेगा। सरकार के पास पैसा नहीं है। पिछले 5 सालाें में 40 हजार किमी नेशनल हाईवे बनाया है। इसके लिए पैसे चाहिए। उन्होंने मंत्रालय की अनुदान मांगाें पर चर्चा के जवाब में टाेल टैक्स खत्म करने की मांग काे खारिज किया। ( पेज-13 भी पढ़ें ) Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today New Delhi News - minister on toll tax gadkari bailey if you want good service you will have to pay Daini
‘फादर ऑफ ट्री’ बाबा सेवा सिंह

‘फादर ऑफ ट्री’ बाबा सेवा सिंह

Punjab
अनुज शर्मा/हरदयाल सिंह | अमृतसर-तरनतारन तरनतारन से खडूर साहिब का रुख करते ही हरे-भरे पेड़ आपका स्वागत करते हैं। खडूर साहिब को अलग-अलग दिशाओं से जाने वाली 7 सड़कों के दोनों तरफ लगे ये पेड़ पद्मश्री बाबा सेवा सिंह की 20 बरस की मेहनत का नतीजा है। बाबा सेवा सिंह को इसकी प्रेरणा अपने एक प्रण आैर गुरबाणी में गुरु साहिबान की ओर से दिए गए संदेश से मिली। 2004 में गुरु अर्जन देव का 500वां प्रकाश पर्व था। इससे 5 साल पहले, 1999 में बाबा सेवा सिंह की संस्था निशान-ए-सिखी ने प्रकाश पर्व की तैयारियां शुरू की तो संगत से पूछकर 5 प्रण लिए। इनमें पर्यावरण बचाने का प्रण भी था। 20 साल बाद बाबा सेवा सिंह के लगाए 4 लाख पौधों में ज्यादातर पेड़ बन चुके हैं। इसी वजह से बाबा सेवा सिंह को ‘फादर ऑफ ट्री’ कहा जाता है। तरनतारन, जंडियाला, रईया व खिलचियां से खडूर साहिब को जाने वाली 128 किमी. लंबी 7 सड़कों
‘फादर ऑफ ट्री’ बाबा सेवा सिंह

‘फादर ऑफ ट्री’ बाबा सेवा सिंह

Punjab
अनुज शर्मा/हरदयाल सिंह | अमृतसर-तरनतारन तरनतारन से खडूर साहिब का रुख करते ही हरे-भरे पेड़ आपका स्वागत करते हैं। खडूर साहिब को अलग-अलग दिशाओं से जाने वाली 7 सड़कों के दोनों तरफ लगे ये पेड़ पद्मश्री बाबा सेवा सिंह की 20 बरस की मेहनत का नतीजा है। बाबा सेवा सिंह को इसकी प्रेरणा अपने एक प्रण आैर गुरबाणी में गुरु साहिबान की ओर से दिए गए संदेश से मिली। 2004 में गुरु अर्जन देव का 500वां प्रकाश पर्व था। इससे 5 साल पहले, 1999 में बाबा सेवा सिंह की संस्था निशान-ए-सिखी ने प्रकाश पर्व की तैयारियां शुरू की तो संगत से पूछकर 5 प्रण लिए। इनमें पर्यावरण बचाने का प्रण भी था। 20 साल बाद बाबा सेवा सिंह के लगाए 4 लाख पौधों में ज्यादातर पेड़ बन चुके हैं। इसी वजह से बाबा सेवा सिंह को ‘फादर ऑफ ट्री’ कहा जाता है। तरनतारन, जंडियाला, रईया व खिलचियां से खडूर साहिब को जाने वाली 128 किमी. लंबी 7 सड़कों
साईं ब्लड सेवा ने ममता रानी की याद में लगाया रक्तदान कैंप

साईं ब्लड सेवा ने ममता रानी की याद में लगाया रक्तदान कैंप

Punjab
खूनदान करते डोनर व डॉक्टरों की टीम के सदस्य। भास्कर संवाददाता|टांडा/उड़मुड़ रविवार को साईं ब्लड सेवा टांडा ओर शिवाजी शाखा अहियापुर की ओर से महादेव मंदिर टांडा में स्वर्गीय ममता रानी की याद में शिविर कैंप रंगी राम अस्पताल जाजा के माहिर डॉक्टरों की टीम के सहयोग के साथ लगाया गया। इस मौके पर कैंप में अलग-अलग संस्थाओं जिनमें बीएमएस सेवा सोसायटी, शहीद भगत सिंह सेवा सोसायटी, बाबा दीप सिंह सेवा सोसायटी और ब्लड डोनर सेवा सोसायटी ने विशेष योगदान डाला। कैंप में 40 यूनिट रक्तदान किया गया। इस मौके रोहित तखी, रविंदर सिंह नानकवीर, जसपाल सिंह, दलजीत सिंह, गैरी तखी, रिक्की तखी, अमित खोसला, दीपक भील, मनी सहोता, कमल, सिकंदर, सुखविंदर सिंह, दलेर सिंह, हरमन सिंह, मन्ना मेहरा, गगन, नैनू जसरा, राजन सोंधी, मोहित शर्मा, सौरव, करण अरोड़ा, नीरज वर्मा, तरुण मेहरा, सुमित कश्यप, रिंकू पनेसर व सुमन खो
पद्मश्री से सम्मानित बाबा सेवा सिंह ने 20 साल में 4 राज्यों के 450 किमी क्षेत्र में 4 लाख पौधे लगाए

पद्मश्री से सम्मानित बाबा सेवा सिंह ने 20 साल में 4 राज्यों के 450 किमी क्षेत्र में 4 लाख पौधे लगाए

Punjabi Politics
अमृतसर-तरनतारन. तरनतारन से खडूर साहिब का रुख करते ही हरे-भरे पेड़ आपका स्वागत करते हैं। खडूर साहिब को अलग-अलग दिशाओं से जाने वाली 7 सड़कों के दोनों तरफ लगे ये पेड़ पद्मश्री बाबा सेवा सिंह की 20 बरस की मेहनत का नतीजा है। बाबा सेवा सिंह को इसकी प्रेरणा अपने एक प्रण और गुरबाणी में गुरु साहिबान की ओर से दिए गए संदेश से मिली। 2004 में गुरु अर्जन देव का 500वां प्रकाश पर्व था। इससे 5 साल पहले, 1999 में बाबा सेवा सिंह की संस्था निशान-ए-सिखी ने प्रकाश पर्व की तैयारियां शुरू की तो संगत से पूछकर 5 प्रण लिए। इनमें पर्यावरण बचाने का प्रण भी था। 20 साल बाद बाबा सेवा सिंह के लगाए 4 लाख पौधों में ज्यादातर पेड़ बन चुके हैं। इसी वजह से बाबा सेवा सिंह को 'फादर ऑफ ट्री' कहा जाता है।4 एकड़ कीनर्सरी में एक लाख पौधे तैयारतरनतारन, जंडियाला, रईया व खिलचियां से खडूर साहिब को जाने वाली 128 किमी. लंबी
पुलिस सेवा से हटने के बाद आश्रम में रह रहे पूर्व पुलिस अफसर ने फंदा लगाकर खुदकुशी की

पुलिस सेवा से हटने के बाद आश्रम में रह रहे पूर्व पुलिस अफसर ने फंदा लगाकर खुदकुशी की

Rajasthan
करौली. जिले के टोडाभीम कस्बे में रविवार को राजस्थान पुलिस के एक पूर्व पुलिस इंस्पेक्टर ने कमरे में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने बताया कि खुदकुशी करने वाला मुकेश जोशी (45) मूल रुप से भरतपुर के रहने वाले थे। वह वर्ष 1997 बैच के सबइंस्पेक्टर थे। इसके बाद पदोन्नत होकर पुलिस इंस्पेक्टर बने।मुकेश ने प्रदेश के अलवर, सवाईमाधोपुर, करौली, झुंझुनूं जिले में भी थानाप्रभारी रहे। अलवर में रहते हुए उत्कृष्ट कार्यों के लिए तत्कालीन एसपी विकास कुमार ने सम्मानित भी किया था। इस बीच विभागीय शिकायतों के चलते उन्हें पुलिस सेवा से हटा दिया गया था। बताया जा रहा है कि करीब डेढ़ साल पहले मुकेश ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली थी।वे करीब एक साल से करौली में ही मेंहदीपुर बालाजी में टोडाभीम तहसील के गेहरोली गांव में स्थित श्री बर्फानी धाम आश्रम में रह रहे थे। वहीं, सेवा पूजा में उनका मन लगा हुआ था
मानवता की सेवा संस्था ने लगाया खूनदान कैंप

मानवता की सेवा संस्था ने लगाया खूनदान कैंप

Punjabi Politics
तरनतारन | मानवता की सेवा संस्था की तरफ से शनिवार काे सिविल अस्पताल पट्टी में खूनदान कैंप लगाया गया। इस दाैरान संस्था के मुख्य सेवक मलकीयत सिंह बब्बल ने बताया कि पट्टी शहर के ब्लड बैंक में ब्लड खत्म हाेने के कारण यह कैंप लगाया गया है। कैंप में विनोद पटवारी की तरफ ने विशेष सहयोग दिया। इस मौके पर जस्सा सिंह, संदीप भाई, नवदीप सिंह, सुखपाल सिंह, मिलाप शर्मा, बब्बलू, राजू आदि हाजिर थे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Tarantaran News - humanity39s service institute imposed on blood camps Dainik Bhaskar
सिविल सेवा परीक्षा के प्री के नतीजे घाेषित, 20 िसतंबर से मुख्य परीक्षा

सिविल सेवा परीक्षा के प्री के नतीजे घाेषित, 20 िसतंबर से मुख्य परीक्षा

Delhi
सिविल सेवा परीक्षा के प्री के नतीजे घाेषित, 20 िसतंबर से मुख्य परीक्षा एजेंसी | नई दिल्ली. यूपीएससी ने सिविल सेवा के प्रारंभिक परीक्षा के नतीजे शुक्रवार काे घाेषित कर दिए हैं। देशभर में 2 जून काे हुई इस प्रारंभिक परीक्षा में 8 लाख से ज्यादा उम्मीदवाराें ने हिस्सा लिया था। मुख्य परीक्षाएं 20 सितंबर से शुरू हाेंगी। मुख्य परीक्षा के लिए अावेदन एक अगस्त से 16 अगस्त के बीच अाॅनलाइन भरे जाएंगे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसानों को दी बड़ी सौगात, कहा- आपकी सेवा करना हमारा फर्ज

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसानों को दी बड़ी सौगात, कहा- आपकी सेवा करना हमारा फर्ज

Rajasthan
इंटरनेट डेस्क। अशोक गहलोत जब से प्रदेश के मुख्यमंत्री बने है तब से वो किसानों पर विशेष ध्यान दे रहे है। सरकार बनने के साथ ही उन्होंने किसानों का दो लाख रुपए तक कर्जा माफ किया था। इसके साथ ही उन्होंने एक बार फिर किसानों को बड़ी सौगात दी है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने की बड़ी घोषणा, प्रदेश के साहित्यकारों, कलाकारों के लिए सरकार करेगी अब ये काम.... मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश के किसानों को लिए सहकारी क्षेत्र में ऑनलाइन फसली ऋण वितरण एवं सहकारी एटीएम के उद्घाटन समारोह में शिरकत की। इस दौरान कर्जमाफी के लाभार्थी किसानों के साथ मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा भी की। गहलोत ने कहा कि किसानों का ऋण माफ करने के साथ ही उन्हें नया लोन स्वीकृत करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। हमारी सरकार इस वर्ष करीब 16 हजार करोड़ रुपए के फसली ऋण वितरित करेगी। दुष्कर्म
सेवा केंद्र बंद करने के विरोध में की नारेबाजी

सेवा केंद्र बंद करने के विरोध में की नारेबाजी

Punjab
शेरपुर| शेरपुर ब्लाक के बडी, कातरों, घनौरी कलां आदि गांवों के सेवा केंद्र बंद कर दिए जाने के कारण लोगों को मुश्किलें आ रही हैं। लोगों का आरोप है कि सेवा केंद्र में काम करवाने के लिए सुबह से ही लाइन में लगना पड़ता है। गुस्साए लोगों ने वीरवार को सरकारी के खिलाफ नारेबाजी की। काला सिंह निवासी गंडेवाल, बलवीर सिंह, रणजीत सिंह निवासी अलीपुर खालसा, भोला सिंह आदि ने कहा कि वह आमदन सर्टिफिकेट, हैंडीकैप सर्टिफिकेट के लिए पहले 30-35 व्यक्तियों को टोकन दिए जाते हैं। उन्होंने सरकार से मांग की कि शेरपुर ब्लाक के बंद पड़े अन्य सेवा केंद्रों को शुरू किया जाए। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Dainik Bhaskar