News That Matters

Tag: world’

World food day – इन सवालों के जवाब से जानें खाना आपके लिए है या आप खाने के लिए ?

World food day – इन सवालों के जवाब से जानें खाना आपके लिए है या आप खाने के लिए ?

Health
World food day - आप क्या, कब, क्यों, कितना और किस तरह खा रहे हैं, ये सब मायने रखता है। खाने से ही सेहत है और सेहत के लिए खाना जरूरी है, पर क्या कहीं आप इसका उल्टा तो नहीं कर रहे। इन सवालों से जानें कि खाना आपके लिए है या आप हैं खाने के लिए? 1. पिछले 6 महीने में मेरा वजन 3 किलो बढ़ गया है- (अ) हां, यह सच है (ब) नहीं वजन कम हुआ है (स) न बढ़ा और न ही घटा 2. मैं हर रोज नाश्ता, लंच या डिनर मिस करता/करती हूं (अ) हां, ऐसा हो जाता है (ब) नहीं, मैं बहुत ही रैगुलर हूं (स) हां, पर रोज नहीं 3. मैं वेज या नॉनवेज में से मेरी पसंद हमेशा नॉनवेज रहती है। (अ) हां, मुझे नॉनवेज बहुत ज्यादा पसंद है (ब) नहीं, मुझे वेज खाना ज्यादा अच्छा लगता है (स) हमेशा नहीं, लेकिन कभी-कभी 4. हर रोज हेल्दी खाना मुझे उबाउ और बेस्वाद लगता है (अ) हां, मुझे स्वादिष्ट-मसालेदार पसंद है (ब) नहीं, मैं हैल्दी खाना पसंद करता हूं (स) मैं
World food day- बच्चों के टिफिन में भूलकर भी न रखें इस तरह का भोजन

World food day- बच्चों के टिफिन में भूलकर भी न रखें इस तरह का भोजन

Health
World food day - बच्चों को जहां कॉर्नफ्लेक्स के रंग-बिरंगे आकर्षक डिब्बे लुभा रहे हैं, वहीं मम्मियों को इनका 'ईजी टू कुक' गुण खूब भा रहा है। इनकी वजह से बच्चों की टिफिन तैयार करने में मॉम्मियों की सहूलियत और भी बढ़ जाती है। लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि सेहत की दृष्टि से कॉर्नफ्लेक्स की ज्यादा मात्रा बच्चों को देना नुकसादायक होता है। एक्सपर्ट के मुताबिक, बच्चों को एक बार में 30ग्राम से अधिक कॉर्नफ्लेक्स नहीं देना चाहिए। ज्यादातर लोग, विशेषकर बच्चे कॉर्नफ्लेक्स को ज्यादा मात्रा लेते हैं। इन्हें स्नैक्स की तरह खाते हैं। कई माताएं तो अपने बच्चों को टिफिन में भी ये फ्लेवर्ड सीरीयल्स ज्यादा मात्रा में रख देती हैं। येल यूनिवर्सिटी के एक शोध में पाया गया कि कॉर्नफ्लेक्स खाने से बच्चे अनजाने में शुगर का जरूरत से ज्यादा सेवन कर रहे हैं। बंगलुरु की पोषण विशेषज्ञ रिआन फर्नेन्डो कहती हैं, कि कॉर्नफ्ल
World food day – भारत में भूख एक गंभीर समस्या, लोगों को नहीं मिल रहा भर पेट भोजन

World food day – भारत में भूख एक गंभीर समस्या, लोगों को नहीं मिल रहा भर पेट भोजन

Health
World Food Day 2018, World food day - देश में भोजन की समस्या खत्म करने के लिए सरकार भले ही तमाम प्रयास कर रही हो लेकिन ग्लोबल हंगर इंडेक्स के आंकड़ों के मुताबिक भारत की स्थिति इस मामले में बेहद खराब है। ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में भूख एक गंभीर समस्या है। भारत ग्लोबल हंगर इंडेक्स में लगातार पिछड़ता जा रहा है। ग्लोबल हंगर इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट में 119 देशों के वैश्विक भूख सूचकांक में भारत 103वें पायदान पर पहुंच गया है। पिछले साल भारत 'ग्लोबल हंगर इंडेक्स' में 100वें नंबर पर था। नेपाल और बांग्लादेश जैसे देशों की स्थिति भारत से बेहतर है लेकिन पाकिस्तान ग्लोबल हंगर इंडेक्स में 106वीं रैंक पर है। भारत में भूख की स्थिति बेहद गंभीर- जीएचआई की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में भूख की स्थिति बेहद गंभीर है। संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की ‘2018 बहुआयामी वैश्विक गरीबी सू
world arthritis day – नजरअंदाज करने पर गंभीर हो जाता है ये राेग, समय पर इलाज जरूरी

world arthritis day – नजरअंदाज करने पर गंभीर हो जाता है ये राेग, समय पर इलाज जरूरी

Health
आर्थराइटिस एक ऐसी बीमारी बन गई है, जिससे हमारा देश लगातार जूझ रहा है। हालांकि, चिकित्सा क्षेत्र में उन्नति से इस समस्या से ग्रसित लोगों को लाभ मिला है। लेकिन आर्थराइटिस के विभिन्न रूपों के बारे में जानना बेहद जरूरी है। नोएडा स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल में इंटरनल मेडिसिन रूमेटोलॉजी कंसल्टेंट डॉ. बिमलेश धर पांडेय का कहना है, ''पिछले कई सालों में सोरियाटिक आर्थराइटिस के मामलों में वृद्धि पाई गई है। सोरायसिस से पीड़ित मरीजों को इससे जुड़ी परेशानी की जानकारी नहीं होती और समय के साथ सोरियाटिक आर्थराइटिस हो जाता है।" एक शोध में यह बात सामने आई है कि एक-चौथाई सोरायसिस मरीज सोरियाटिक आर्थराइटिस से पीड़ित पाए जाते हैं। पांडे के अनुसार, सोरायटिक आर्थराइटिस का कोई स्थाई इलाज नहीं है और समय के साथ इसमें होने वाला परिवर्तन अलग-अलग मरीजों में अलग नजर आता है। समय पर जांच और इलाज के विकल्पों द्वारा इसके लक्षणो
World Obesity Day – महिलाओं में गर्भधारण की संभावना कम करता है मोटापा

World Obesity Day – महिलाओं में गर्भधारण की संभावना कम करता है मोटापा

Health
अधिक वजनी महिलाओं को गर्भधारण में संतुलित वजन वाली महिलाओं के मुकाबले एक साल से अधिक का समय लग सकता है। मोटापे से पीड़ित महिलाओं में गर्भपात की आशंका भी दोगुनी से अधिक रहती है।फर्टिलिटी साल्यूशंस, मेडिकवर फर्टिलिटी की क्लीनिकल डायरेक्टर और सीनियर कंसल्टेंट डॉ. श्वेता गुप्ता के मुताबिक, अधिक वजन या मोटापे से पीड़ित महिलाओं में गर्भधारण की संभावनाएं अपेक्षाकृत कम रहती हैं। इनफर्टिलिटी का महत्वपूर्ण कारण शोध बताते हैं कि मोटापा मुख्य कारण तो नहीं है, लेकिन इनफर्टिलिटी (नि:संतानता) का महत्वपूर्ण कारण जरूर है। मोटापे के कारण एंड्रोजन, इंसुलिन जैसे हार्मोन का अत्यधिक निर्माण जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं या अंडोत्सर्जन तथा शुक्राणु के लिए नुकसानदेह प्रतिरोधी हार्मोन बनते हैं। लिहाजा, स्वस्थ लाइफस्टाइल अपनाएं। इससे न सिर्फ आपकी प्रजनन क्षमता बढ़ेगी बल्कि आप फिट भी रह सकती हैं। शरीर को नुकसान
On World Mental Health Day, Deepika Padukone urges everyone to share their stories in powerful video

On World Mental Health Day, Deepika Padukone urges everyone to share their stories in powerful video

Entertainment
On World Mental Health Day, Deepika Padukone urges everyone to share their stories in powerful video Deepika Padukone, in 2015, brought about a social change as she became the first actress to publicly address the condition of mental illness and her suffering from depression. The actress currently has been working towards creating awareness and supporting mental illness with her NGO, The Live Love Laugh Foundation (TLLF...